menu-icon
India Daily
share--v1

मोदी सरकार के बाद ममता दीदी की बारी, किसानों के लिए जारी किए हजारों करोड़ रुपये

Krishak Bandhu Scheme: पश्चिम बंगाल सरकार ने बंगाल के किसानों के खाते में 2900 करोड़ रुपये भेजे हैं. बंगाल की ममता सरकार ने ये राशि कृषक बंधु योजना के तहत पश्चिम बंगाल के किसानों में भेजी गई है. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ने ट्वीट करके बताया कि इस योजना के अलावा चालू रबी सीजन के दौरान प्रतिकूल मौसम की वजह से 2.10 लाख किसानों की फसल बर्बाद हुई जिसके लिए उन्हें भी आर्थिक सहायता दी जा रही है.

auth-image
India Daily Live
Modi and Mamata
Courtesy: Social Media

Krishak Bandhu Scheme: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीसरी बार पीएम पद की शपथ लेते ही 10 जून को किसान सम्मान निधि योजना की 17वीं किस्त जारी की. पीएम मोदी के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी बंगाल के किसानों को बड़ी सौगात दी है. सीएम ममता बनर्जी ने कृषक बंधु योजना 2024 के खरीफ सीजन की पहली किस्त जारी की है. ये योजना पश्चिम बंगाल की है. सीएम ममता बनर्जी ने खुद इसकी जानकारी सोशल मीडिया पर दी है.  बंगाल के किसानों को केंद्र की पीएम किसान सम्मान निधि योजना का भी लाभ मिल रहा है. लेकिन उन्हें इस योजना का लाभ 2 साल बाद मिलना शुरू हुआ था.  

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने एक्स पर ट्वीट करके बताया कि 1.05 करोड़ किसानों के खाते में कृषक बंधु योजना के तहत पैसे भेजे जा रहे हैं. 2900 करोड़ रुपये सीधा किसानों के खाते में भेजे जाएंगे. 

सीएम ने ट्वीट कर दी जानकारी 

ममता बनर्जी ने ये भी बताया कि किन किसानों को इस योजना का लाभ मिल रहा है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ये भी बताया कि वह इसके अलावा 2.10 लाख किसानों के बैंक खातों में सीधे 293 करोड़ रुपये जारी किए जा रहे हैं, जिन किसानों को चालू रबी सीजन के दौरान प्रतिकूल मौसम की वजह से फसल का नुकसान हुआ है.

2 साल बाद मिला बंगाल के किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि का लाभ

10 जून को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएम किसान सम्मान निधि की 17वीं किस्त जारी की थी. इसके तहत करीब 9.3 करोड़ किसानों के खाते में 20 हजार करोड़ रुपये की राशि भेजी गई. बंगाल के किसानों को भी इस योजना का फायदा हो रहा है.

पीएम किसान सम्मान निधि योजना की शुरुआत 2019 में हुई थी लेकिन बंगाल के किसानों को इसकी पहली किस्त के लिए 2 साल से ज्यादा का इंतजार करना पड़ा था. क्योंकि बंगाल सरकार ने केंद्र सरकार को किसानों की सूची नहीं भेजी थी.14 मई 2021 को बंगाल के किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि योजना की पहली किस्त मिली थी.

2021 में हुए थे विधानसभा चुनाव 

पश्चिम बंगाल में 2021 में विधानसभा चुनाव होने थे. चुनाव के चक्कर में राजनीतिक दलों के बीच चुनाव में अच्छा प्रदर्शन करने का खामियाजा पश्चिम बंगाल के किसानों को उठाना पड़ा था. पश्चिम बंगाल में 294 में से 292 विधानसभा सीटों के लिए 27 मार्च से 29 अप्रैल 2021 के बीच आठ चरणों में चुनाव संपन्न हुआ था. टीएमसी ने इस चुनाव में 211 सीटें जीती थीं वहीं, भाजपा को 77 सीटें मिली थी.