menu-icon
India Daily
share--v1

Lok Sabha elections 2024: भोजपुरी सिनेमा के तीन सुपरस्टार, एक जीता दो की दिख रही करारी हार

इस लोकसभा चुनाव में भोजपुरी सिनेमा के तीन सुपरस्टार्स  पवन सिंह, रवि किशन और दिनेश लाल यादव ने भी अपनी ताल ठोकी थी.

auth-image
India Daily Live
Lok sabha election 2024
Courtesy: social media

Lok Sabha elections 2024:  लोकसभा चुनाव के नतीजे अपने अंतिम पड़ाव की ओर बढ़ चले हैं. चुनाव का रिजल्ट लगभग-लगभग साफ हो चुका है. इस चुनाव में भोजपुरी सिनेमा के तीन सुपरस्टार्स पवन सिंह, रवि किशन और दिनेश लाल यादव ने भी अपनी ताल ठोकी थी. तीनों ही भोजपुरी इंडस्ट्री के सबसे पॉपुलर एक्टर्स में गिने जाते हैं. आइए जानते हैं इन चुनावों में इन तीनों ने कैसा प्रदर्शन किया.

पवन सिंह: बिहार की काराकाट लोकसभा सीट पर मुकाबला एक तरफ हो चला है. इस बार काराकाट लोकसभा सीट पर भोजपुरी एक्टर पवन सिंह ने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर दावेदारी पेश की थी लेकिन ताजा रुझानों में वह सीपीआई (एमएल) के नेता राजा राम सिंह से हारते हुए दिख रहे हैं. राजा राम सिंह 89269 वोटों से आगे चल रहे हैं. इस सीट पर एनडीए की ओर से पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा उम्मीदवार हैं. बीजेपी का सदस्य होने के बाद भी एनडीए उम्मीदवार के खिलाफ चुनाव लड़ने की वजह से पवन सिंह को पार्टी से निलंबित कर दिया गया था.

आखिर क्यों पिछड़ गए पवन सिंह
दरअसल, उपेंद्र कुशवाहा और राजाराम सिंह कुशवाहा समुदाय से ताल्लुक रखते हैं. इस क्षेत्र में कुशवाहा समाज के मतदाताओं की संख्या अच्छी खासी है. वहीं पवन सिंह उच्च जाति से ताल्लुक रखते हैं. भोजपुरी स्टार होने के नाते उनकी भोजपुर, रोहतास, औरंगाबाद कैमूर आदि ग्रामीण इलाकों में बड़ी फैन फॉलोइंग है. माना जा रहा था पवन सिंह ऊंची जाति का वोट भाजपा से छीन सकते हैं. वह इस रणनीति में कामयाब भी रहे लेकिन फिर भी वह सीट जीतते नहीं दिख रहे हैं.   

रवि किशन: जाने माने भोजपुरी एक्टर रवि किशन को भारतीय जनता पार्टी ने एक बार फिर से गोरखपुर लोकसभा सीट से अपना उम्मीदवार बनाया था. रवि किशन एक बार फिर से मोदी और योगी की आकांक्षाओं पर खरे उतरते दिखाई दे रहे हैं. फिलहाल वह अपनी करीबी प्रतिद्वंद्वी और समाजवादी पार्टी नेता काजल निषाद से 97707 वोटों से आगे चल रहे हैं.

दिनेश लाल यादव: भोजपुरी सुपर स्टार दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ उत्तर प्रदेश की चर्चित सीट आजमगढ़ में समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार धर्मेंद्र यादव से 148052 वोटों से पीछे चल रहे हैं. ऐसे में दिनेश लाल यादव का हारना लगभग तय हो गया है. इस सीट पर बसपा ने मशहूद सबीहा अंसारी को अपना उम्मीदवार बनाया था. दिनेश लाल वर्तमान में आजमगढ़ से ही सांसद हैं. 2022 में हुए उपचुनाव में उन्होंने भाजपा के टिकट पर यहां से जीत दर्ज की थी. उन्होंने सपा प्रत्याशी धर्मेंद्र यादव को हराया था.