menu-icon
India Daily
share--v1

बीजेपी की 3 देवियां, माधवी, स्मृति और नवनीत नहीं हासिल कर पाईं जीत, समझिए कैसे हुई हार

Lok Sabha Result 2024: लोकसभा चुनाव परिणामों में बीजेपी के स्टार प्रचारकों सहित कई बड़े नेताओं की हार हुई है. बीजेपी की तीन देवियां कही जाने वाली स्मृति ईरानी, नवनीत राणा और माधवी लता ने अपनी सीट गंवा दी है.

auth-image
India Daily Live
BJP
Courtesy: Social Media

Lok Sabha Result 2024: लोकसभा चुनाव के नतीजे आने शुरु हो गए हैं. चुनाव परिणामों में बीजेपी को खासा नुकसान हुआ है. बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए गठबंधन को 300 से भी कम सीटों पर जीत हासिल करता हुआ दिखाई दे रहा है. हालांकि, कांग्रेस का नेतृत्व वाला इंडिया गठबंधन चुनाव नतीजों से बेहद उत्साहित है. इंडिया गठबंधन को लगभग 233 सीटें मिलती हुई दिखाई दे रही हैं. बीजेपी को इस चुनाव में कई बड़ी सीट पर हार का सामना करना पड़ा है. बीजेपी के स्टार कैंडिडेट भी अपनी सीट बचाने में नाकाम रहे हैं. बीजेपी की तीन देवियां कही जाने वाली माधवी लता, स्मृति ईरानी, और नवनीत राणा चुनाव हार गई हैं. 


नवनीत राणा का नहीं चला जादू 

बीजेपी की स्टार प्रचारक नवनीत राणा बीजेपी के टिकट पर चुनावी मैदान में थीं. महाराष्ट्र की अमरावती सीट से उम्मीदवार राणा को बीजेपी ने स्टार प्रचारक बनाकर कई राज्यों में चुनाव प्रचार के लिए भी भेजा था, लेकिन वे अपनी सीट को बचाने में नाकाम रहीं. पिछले लोकसभा चुनाव में उन्होंने निर्दलीय चुनाव जीता था. राणा को कांग्रेस के उम्मीदवार बलवंत वानखेड़े ने हराया है. 2019 में जीत हासिल करने के बाद उन्होंने पीएम मोदी की अगुवाई वाली केंद्र सरकार को अपना समर्थन दिया था. 


माधवी लता नहीं कर पाई कमाल 

हैदाराबाद लोकसभा सीट पर लंबे समय से राज कर रहे असदुद्दीन ओवैसी के खिलाफ बीजेपी ने माधवी लता को उतारा था. माधवी लता अभिनेत्री के साथ-साथ एक राजनीतिज्ञ भी हैं. बीजेपी ने माधवी लता पर भरोसा जताया, लेकिन वे ओवैसी के खिलाफ कोई कमाल नहीं दिखा पाईं. आंकड़ों के मुताबिक, असदुद्दीन ओवैसी ने  उन्हें बड़े अंतर के साथ मात दी है. माधवी साल 2018 में बीजेपी में शामिल हुई थी. 


स्मृति ईरानी का नहीं चला सिक्का 

उत्तर प्रदेश की लोकसभा सीट अमेठी से केंद्रीय मंत्री और यहां की मौजूदा सांसद स्मृति ईरानी की हार हुई है. किशोरी लाल शर्मा ने उन्हें बड़े अंतर के साथ हराया है. पिछले लोकसभा चुनाव में उन्होंने राहुल गांधी को हराकर उन पर तंज कसा था लेकिन इस बार उन्हें गांधी परिवार के विशेष सहयोगी किशोरी लाल शर्मा ने बड़े अंतर के साथ मात दी है.