menu-icon
India Daily
share--v1

'मुल्ला, मौलवियों के फतवे को जूते की नोक पर रखती हूं...', नाज़िया इलाही के जवाबों से उबल पड़ेंगे कट्टरपंथी

auth-image
India Daily Live

नाजिया इलाही भारतीय जनता पार्टी की प्रवक्ता और सुप्रीम कोर्ट की वकील हैं. इस्लाम से जुड़े मामलों पर अपनी तीखी टिप्पणियों के लिए जानी जाती हैं. वह बताती हैं कि उन्हें हर दिन जान का खतरा है और कभी भी उनकी जान जा सकती लेकिन वह इन मुद्दों पर बोलना बंद नहीं करेंगे. अयोध्या में चुनाव हारने के मामले पर बीजेपी नेता नाजिया इलाही ने कहा कि यह हैरान करने वाला है लेकिन जनता का फैसला तो उसे स्वीकार करना ही होगा. 

इंडिया डेली लाइव से बातचीत में नाजिया इलाही ने कहा, 'मैं मुल्ला और मौलवियों के फतवे को जूते की नोंक पर रखती हूं.' योगी बनाम अमित शाह के मुद्दे पर नाजिया इलाही ने कहा, 'योगी जी ने कुछ उम्मीदवारों की लिस्ट दी थी लेकिन उनको टिकट नहीं मिला. मेरा मानना है कि उनकी लिस्ट पर विचार किया जाना चाहिए था.' उन्होंने यह भी माना कि योगी आदित्यनाथ की ओर से भेजी गई लिस्ट को ठुकरा दिया गया लेकिन ऐसा नहीं होना चाहिए था.

नाजिया इलाही ने कहा, 'यह बात सच है कि कई राज्यों में कई ऐसी लिस्ट गई थीं. इतनी सीटें लाने का बावजूद भी मैं 4 जून से सो नहीं पाई, मुझे नींद नहीं आई. हमारे नेता ने हमें 400 पार का लक्ष्य दिया था लेकिन वह पूरा नहीं हुआ. मैं बहुत जिम्मेदारी से कह रही हूं कि पश्चिम बंगाल में ऐसे कैंडिडेट नहीं होने चाहिए थे.'