menu-icon
India Daily
share--v1

न ऑक्सीजन न पानी फिर भी मंगल ग्रह पर 18 महीना तक जिंदा रहा.... वैज्ञानिकों ने किया चौंकाने वाला खुलासा

Lichen survived on Mars for 18 months: . इसी बीच एक खबर ने विज्ञान जगत के विशेषज्ञों के होश उड़ा दिए है. दरअसल, मंगल ग्रह पर एक जीव 18 महीनों तक जिंदा रहा.

auth-image
Gyanendra Tiwari
Mars

हाइलाइट्स

  • मंगल ग्रह पर जीवन की संभावना बढ़ी
  • वैज्ञानिकों ने किया चौंकाने वाला खुलासा

Lichen survived on Mars for 18 months: स्पेस की दुनिया में आए दिन नए-नए खुलासे होते  रहते हैं. वैज्ञानिक लगातार शोध कर रहे हैं. मंगल ग्रह पर जीवन को लेकर कई शोध सामने आ चुके हैं. वैज्ञानिक वहां पर इंसानी जीवन की तलाश में जुटे है. इसी बीच एक खबर ने विज्ञान जगत के विशेषज्ञों के होश उड़ा दिए है. दरअसल, मंगल ग्रह पर एक जीव 18 महीनों तक जिंदा रहा. दरअसल, स्पेस में अलग-अलग ग्रह पर जीवन तलाशने के लिए वैज्ञानिक कई प्रकार के जीवों को वहां पर ले जाते हैं और खास प्रयोग करते हैं.

जो खबर आई है वह इंसानों को खुश करने वाली है. क्योंकि जब मंगल ग्रह पर एक जीव 18 महीनों तक जीवित रह सकता है तो वहां इंसानों के जीवन की संभावना भी बढ़ गई है.



इसकी जानकारी एस्ट्रोबायोलॉजी जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन में दी गई है. इस शोध में छापा गया है कि इस जीव ने जिंदा रहने के साथ इसने फोटोसिंथेसिस का काम भी जारी रखा.

इस जीव का नाम है लाइकेन. ये जीव फफूंद और काई से खासा संबंध रखता है. इस जीव ने अंतरिक्ष की दुनिया में 18 महीनों तक लगातार जिंदा रहकर वैज्ञानिकों को एक नई राह दिखाई है.

दरअसल, वैज्ञानिकों ने पृथ्वी पर ही मंगल ग्रह जैसा वायुमंडल क्रिएट किया था. इस माहौल में वैज्ञानिक ने लाइकेन को रखा. लाइकेन ने 18 महीनों तक सर्वाइव करके वैज्ञानिकों को एक नई दिशा दी है.
 
लाइकेन नाम के इस जीव ने अंतरिक्ष वैक्यूम, चरम तापमान, पानी की कमी, बगैर ऑक्सीजन,  हानिकारक रेडिएशन, पराबैंगनी विकिरण आदि का सामना किया.