share--v1

आजमा लिया ये तरीका तो गर्मी में भी घर रहेगा कूल-कूल, रिसर्च में हुआ खुलासा

भारत में गर्मी का मौसम दस्तक दे चुका है. ऐसे में लोग अपने घरों को ठंडा रखने के उपाय खोजने लगे हैं. एक रिसर्च के मुताबिक अगर आप घर की छत कुछ खास रंगों से रंगवाते हैं तो आपके घर का तापमान 1 डिग्री तक कम हो सकता है.

auth-image
India Daily Live

गर्मी ने भारत में दस्तक दे दी है. पंखे, कूलर, एसी चलने शुरू हो गए हैं. हर कोई गर्मी से बचने और अपने घरों को ठंडा रखने के उपाय तलाश रहा है. इसी बीच एक राहत देने वाली नई रिसर्च सामने आई है, जिसमें बताया गया है कि छत पर किस रंग का पेंट कराने से घर को ठंडा रखा जा सकता है.

हल्के रंग की छत वाले मकान ज्यादा ठंडे रहते हैं

हाल ही में ऑस्ट्रेलिया में हुए एक शोध के मुताबिक जिन घरों की छत सफेद होती है वे घर ज्यादा ठंडे रहते हैं. बता दें कि रंगों का तापमान के बढ़ने घटने से सीधा संबंध होता है. कुछ रंग बढ़ते तापमान में गर्मी से राहत देते हैं जबकि कुछ रहं तापमान को बढ़ाने का भी काम करते हैं.

मसलन जितने भी गहरे रंग होते हैं वो ज्यादा हीट सोखते हैं जिससे आपके घर का तापमान बढ़ सकता है, वहीं हल्के रंग कम हीट सोखते हैं जिससे आपके घर का तापमान भी कम बना रहता है.

यही कारण है कि गर्मी में लोग हल्के रंग के कपड़े पहनना पसंद करते हैं. इस रिसर्च के अनुसार हल्के रंग की छत वाले घरों का तापमान, गहरे रंग की छत वाले घरों की तुलना में कम होता है.

रिसर्च के अनुसार जिन घरों की छत सफेद या किसी अन्य हल्के रंग की होती है उन घरों का तापमान गहरे रंग की छत वाले घरों की तुलना में लगभग 1 डिग्री तक कम होता है.

गहरे रंग की छत से 38% बढ़ जाता है बिजली का खर्च
ऑस्ट्रेलिया की राजधानी सिडनी में जिन घरों की छत गहरे रंग की रंगी होती है उनमें बिजली का खर्च 38 प्रतिशत ज्यादा होता है क्योंकि उन घरों का तापमान अधिक होता है इसलिए उन्हें ठंडा रखने के लिए ज्यादा बिजली खर्च होती है.

अहमदाबाद में भी हुई रिसर्च

गर्मी से राहत दिलाने में घर की छत का रंग कितना महत्वपूर्ण है यह अहमदाबाद में हुए एक शोध से पता चला. यहां एक पायलट प्रोजेक्ट के तहत गरीब इलाकों में मौजूद करीब 3 हजार घरों की छतों को सफेद रंग से रंग दिया गया, जिसके बाद पाया गया कि 50 डिग्री तापमान में भी काफी राहत महसूस हुई. छत के सफेद रंग के कारण घर के अंदर का तापमान कम हो गया था. सफेद रंग कम हीट सोखता है जिससे घर का तापमान कम बना रहता है.

मॉडरूफ वाली छतों वाले मकानों का तापमान 4.5 डिग्री तक होता है कम

गुजरात के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक हेल्थ की रिसर्च के अनुसार मॉडरूफ वाले घरों का तापमान कंक्रीट वाली छतों वाले घरों की तुलना में 4.5 डिग्री कम होता है. ऐसा इसलिए क्योंकि मॉडरूफ लकड़ी और गत्तों से बने होते हैं जो कम गर्मी सोखते हैं.

Also Read