share--v1

बांग्लादेश में लगातार क्यों कम हो रही है हिंदू आबादी? 33 फीसदी से घटकर 8.5 फीसदी तक आ गया है आंकड़ा

Hindu Population in Bangladesh: एक समय बांग्लादेश नाम का कोई देश नहीं था. 1947 में जब भारत आजाद हुआ तो आज का बांग्लादेश पूर्वी पाकिस्तान के नाम से जाना जाता था.  बंटवारे के वक्त भी बांग्लादेश में हिंदुओं के खिलाफ बेइंतहा जुल्म हुआ था.

auth-image
Gyanendra Tiwari

हाइलाइट्स

  • बांग्लादेश में कम हो रही है हिंदू आबादी
  • 7 जनवरी को बांग्लादेश में है चुनाव

Hindu Population in Bangladesh: बांग्लादेश में 7 जनवरी को आम चुनाव होने है. चुनाव से पहले एक बार फिर से वहां हिंदुओं का मामला उठ गया है. दरअसल, भारत के पड़ोसी मुल्क में हिंदुओं की जनसंख्या साल दर साल घटती ही जा रही है. सवाल उठ रहे हैं कि क्या बांग्लादेश के अल्पसंख्यक खतरे में हैं? क्योंकि आंकड़े भी कुछ ऐसा ही इसारा कर रहे हैं. बांग्लादेश में हिन्दू अल्पसंख्यक समुदाय में गिने जाते हैं. रिपोर्ट्स की मानें तो बांग्लादेश में हिंदुओ के साथ जोर जबरदस्ती की जाती है.

हाल ही में एक मामला सामने आया था जिसमें बांग्लादेश के कुमिल्ला जिले में माणिक भौमिक की जमीन पर अवामी लीग के किसान विंग के नेता खुर्शीद आलम ने जबरदस्ती कब्जा कर लिया था. माणिक भौमिक कोई आम आदमी नहीं बल्कि पेशे से एक वकील है. उन्होंने अपनी जमीन बचाने के लिए कई संगठनों के साथ जुड़कर प्रोटेस्ट भी किया लेकिन वो अपनी जमीन नहीं बचा पाया. इसी तरह बहुत से अल्पसंख्य अपनी जमीन खोने से नहीं बचा पाए. बांग्लादेश में हिंदुओं के जमीन पर कब्जा करने का ये कोई पहला मामला नहीं है. जमीन हड़पने के ऐसे कई मामले हैं जिनमें पीड़ित हिंदू हैं.

 

दुनिया में हिंदू

 

वैसे हिंदू दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा धर्म है. पूरी दुनिया में 1.2 बिलियन 1 अरब 20 करोड़ हिंदू हैं. जिनमें से 1.10 मिलियन हिंदू भारत में रहते हैं. दुनिया के तीनों देशों में हिंदू आबादी अधिक है. भारत में 78.9 फीसदी हिंदू रहते हैं. वहीं, नेपाल में 80.06 फीसदी तो इस्ट अफ्रीकी देश मॉरीशस में 48.4 फीसदी हिंदू रहते हैं. इसके बावजूद दुनिया का कोई भी देश हिंदू राष्ट्र नहीं.

बांग्लादेश में आम चुनाव की वजह से हिंदुओं के साथ हो रहे दुर्व्यवहार का मुद्दा तेजी के साथ उठा है. आए दिन वहां से हिंदुओं के उत्पीड़न की खबरें आते रहती हैं. इसी कारण वहां हिंदुओं की संख्या साल दर साल घटती जा रही हैं. आंकड़ों की बात करें तो 1901 में बांग्लादेश में 33 फीसदी हिंदू आबादी थी लेकिन 2011 की जनगणना में हिंदू आबादी मात्रा 08.5 फीसदी ही बची.

एक समय बांग्लादेश नाम का कोई देश नहीं था. 1947 में जब भारत आजाद हुआ तो आज का बांग्लादेश पूर्वी पाकिस्तान के नाम से जाना जाता था.  बंटवारे के वक्त भी बांग्लादेश में हिंदुओं के खिलाफ बेइंतहा जुल्म हुआ था. 1951 में बांग्लादेश में 76.9 फीसदी मुस्लिम और 22 फीसदी हिंदू थे.

 

1971 के बाद बांग्लादेश में कैसी घटी हिंदू आबादी

 

1971 में जब बांग्लादेश का निर्माण होता है तो भी पाकिस्तानी सेना ने हिंदुओं पर खूब जुलम किया था. रिपोर्ट के मुताबिक 1971 में बांग्लादेश में 30 लाख हिंदुओं का नरसंहार हुआ था.

1972 में जब बांग्लादेश में नया संविधान लागू हुआ तो उसने खुद को धर्मनिरपेक्ष और लोकतांत्रिक राष्ट्र घोषित किया. लेकिन 7 जून 1988 में बांग्लादेश ने खुद को इस्लामिक राष्ट्र घोषित कर लिया था.

आइए अब आंकड़ों की बात करते हैं कि किस तरह से बांग्लादेश में हिंदू आबादी घटी. 1951 में जिस पूर्वी पाकिस्तान में हिंदू की आबादी 22 फीसदी थी. 1974 में बांग्लादेश में हिंदुओं की आबादी का प्रतिशत घटकर 13.5 फीसदी पर आ गया था. यें आंकड़ा दिन पर दिन गिरता गया. और 2011 की जनगणना के मुताबिक बांग्लादेश में हिंदुओं की आबादी का सिर्फ 8.5 फीसदी ही थी.

 यह आंकड़ा आज से 14 साल पहले का है. वर्तमान में ये तस्वीर पूरी तरह बदल चुकी होगी. एक रिपोर्ट के अनुसार वर्तमान में बांग्लादेश में हिंदुओं की आबादी 6 फीसदी ही होगी.

 

बांग्लादेश में साल दर साल घटती हिंदू आबादी

 

  • साल 1901 में 66.1 फीसदी मुस्लिम और 33 फीसदी हिंदू
  • साल 1911 में 67.2 फीसदी मुस्लिम और 31.5 फीसदी हिंदू
  • साल 1921 में 68.1 फीसदी मुस्लिम और 30.6 फीसदी हिंदू
  • साल 1931 में 69.5 फीसदी मुस्लिम और 29.4 फीसदी हिंदू
  • साल 1941 में 70.3 फीसदी मुस्लिम और 28 फीसदी हिंदू
  • साल 1951 में 76.9 फीसदी मुस्लिम और 22 फीसदी हिंदू
  • साल 1961 में 80.4 फीसदी मुस्लिम और 18.5 फीसदी हिंदू
  • साल 1974 में 85.4 फीसदी मुस्लिम और 13.5 फीसदी हिंदू
  • साल 1981 में 86.7 फीसदी मुस्लिम और 12.1 फीसदी हिंदू
  • साल 1991 में 88.3 फीसदी मुस्लिम और 10.5 फीसदी हिंदू
  • साल 2001 में 89.6 फीसदी मुस्लिम और 09.3 फीसदी हिंदू
  • साल 2011 में 90.0 फीसदी मुस्लिम और 08.5 फीसदी हिंदू
Bangladesh hindu
Bangladesh hindu

इसलिए बांग्लादेश में कम हो रहे हैं हिंदू

बांग्लादेश में हिंदू आबादी में कमी का कारण जमीन हड़पना है. दरअसल, वहां के बहुसंख्यक, अल्पसंख्यकों के घर जला देते हैं, जिसकी वजह से हिंदू परिवार को पलायन को मजबूर होना पड़ता है. और बहुसंख्यक हिंदुओं की जमीन पर कब्जा कर लेते हैं.  2022 की एक डाटा के मुताबिक बांग्लादेश में 13,790,000 हिंदू हैं.


तेजी के साथ पलायन कर रहे हैं हिंदू


हिंदू अमेरिकन फाउंडेशन के मुताबिक 1964 से 2013 के बीच बांग्लादेश से करीब 11 मिलियन (1 करोड़ 10 लाख) हिंदू पलायन कर गए. इसका मतलब हर साल 230,000 हिंदू बांग्लादेश छोड़ने पर मजबूर होते हैं. Deutsche Welle की एक रिपोर्ट के मुताबिक 2011 की जनगणना के अनुसार साल 2000 से 2011 के बीच लाखों हिंदू बांग्लादेश से गायब थे.
 

दुनिया के किस देश में रहते हैं सबसे ज्यादा हिंदू?

Country Hindu
India 1,093,780,000
Nepal 28,600,000
Bangladesh 13,790,000
Indonesia 4,210,000
Pakistan 3,990,000
Sri Lanka 3,090,000
United States 2,510,000
Malaysia 1,940,000
United Kingdom 1,030,000
United Arab Emirates 660,000

पत्रकार और लेखक डीप हाल्डर की किताब 'Being Hindu in Bangladesh: The Untold Story' के अनुसार 2024 के आम चुनाव में हिंदुओं का व्यापक प्रभाव पड़ेगा.

Also Read

First Published : 04 January 2024, 01:13 PM IST