menu-icon
India Daily
share--v1

इस्लामिक देश मिस्र ने भी लगाया नकाब पर प्रतिबंध, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

ल्लीः इस्लामिक मुल्क मिस्र ने चेहरा ढकने में इस्तेमाल होने वाले नकाब पर रोक लगा दी है. मिस्र में 30 सितंबर से शुरू होने वाले शैक्षणिक सत्र से पहले ही इस पर प्रतिबंध लगा दिया है.

auth-image
Shubhank Agnihotri
इस्लामिक देश मिस्र ने भी लगाया नकाब पर प्रतिबंध, जानिए क्या है इसके पीछे की वजह

 

नई दिल्लीः इस्लामिक मुल्क मिस्र ने चेहरा ढकने में इस्तेमाल होने वाले नकाब पर रोक लगा दी है. मिस्र में 30 सितंबर से शुरू होने वाले शैक्षणिक सत्र से पहले ही इस पर प्रतिबंध लगा दिया है. यह प्रतिबंध की चर्चा इसलिए अधिक हो रही है क्योंकि इस पर प्रतिबंध लगाने वाला कोई पश्चिमी देश नहीं बल्कि इस्लामिक देश मिस्र है.


लागू होगा नया ड्रेस कोड
मिस्र के शिक्षामंत्री रेड़ा हेगाजी ने बताया कि हमने अपने निर्णय की पुष्टि की है, साथ ही नए दिशा निर्देशों का विवरण भी दिया है.उन्होंने कहा कि लड़कियों को हिजाब पहनने की अनुमति होगी. रिपोर्ट के मुताबिक, हेगाजी का कहना है कि यहा नया ड्रेस कोड उन कपड़ों को प्रतिबंधित करता है जिससे कि उनका चेहरा पूरी तरह से ढ़क जाए. उन्होंने कहा कि छात्रों की पोशाक कैसी हो यह तय करने में अभिभावकों की बड़ी भूमिका होती है. उन्होंने कहा कि पेरेंट्स अपनी बेटियों को बाल ढ़कने फैसले से अवगत हों इसके अलावा उस पर अपनी सहमति भी दें.


जागरुकता फैलाने का निर्देश 
रेड़ा हेगाजी ने कहा कि शिक्षा मंत्रालय ने इस फैसले करे बारे में जागरुकता फैलाने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया है. इसके अलावा हमने नई स्कूल ड्रेस बनाने का भी फैसला किया है. उन्होंने आगे कहा कि स्कूल यूनिफॉर्म का रंग स्कूल बोर्ड, अभिभावक, शिक्षकों की सहमति से होगा.


विषयों में भी होगा बदलाव
उन्होंने यह भी कहा कि अभिभावक इस बात के लिए पूरी तरह से स्वतंत्र होंगे कि वे बच्चों की यूनिफॉर्म कहां से खरीदें. इसके बाद उन्होंने कहा कि यदि कोई छात्रा यूनिफॉर्म में नहीं आता है तो उसे स्कूल में घुसने की इजाजत नहीं दी जाएगी. मंत्री हेगाजी ने कहा कि अरबी भाषा, धार्मिक शिक्षा, राष्ट्रीय शिक्षा से जैसे मुद्दों की पहचान करके इन्हें भी शिक्षा का अनिवार्य अंग बनाया जाएगा.

 

यह भी पढ़ेंः नवाज शरीफ के पाकिस्तान वापसी का शहबाज ने किया ऐलान, अक्टूबर में इस दिन आएंगे मुल्क