menu-icon
India Daily
share--v1

वायुसेना का Su-30 MKI फाइटर जेट क्रैश, इतने एडवांस फीचर फिर कैसे हुआ हादसा?

सुखोई-30 MKI फाइटर जेट एक एडवांस्ड फाइटर जेट है, जिसका इस्तेमाल भारतीय सेना एक अरसे से करते आई है. इसे सेना ने युद्ध क्षेत्रों में भी इस्तेमाल किया है और दुश्मनों के दांत खट्टे किए है.इतने अत्याधुनिक फाइटर जेट के क्रैश होने पर अब सवाल खड़े हो रहे है.

auth-image
India Daily Live
Su-30 MKI
Courtesy: Social Media

भारतीय सेना का एक सुखोई-30 MKI फाइटर एयक्राफ्ट महाराष्ट्र के नासिक में क्रैश हो गया है. इस फाइटर जेट की ओवरहॉलिंग हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड की टीम कर रही थी. फ्लाइट में सवार दोनों पायलट सेफली बाहर निकलने में कामयाब हो गए हैं. सुखोई 30MKI जंग के लिए भरोसेमंद एयरक्राफ्ट है. इसे सुखोई डिजाइन ब्यूरो और हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) ने इंडियन एयरफोर्स से किए डिजाइन किया है. इसमें थ्रस्ट वेक्टोरिंग कंट्रोल और कैनार्ड्स को ज्यादा एडवांस किया गया है. आइए जानते हैं इसकी क्या खूबियां हैं.

- Su-30MKI एक मल्टीरोल फाइटर एयरक्राफ्ट है.
- यह एयरक्राफ्ट 1995 से ही सेना के लिए अपडेशन मोड पर है.
- Su-30MKI में ऐसे अत्याधुनिक हथियार हैं, जो जंग के वक्त दुश्मनों को तबाह कर सकते हैं.
- इसमें एक साथ 150 राउंड फायरिंग करने की क्षमता है.
- इस एयरक्राफ्ट में ब्रह्मोस राइफल्स को भी फिक्स किया जा सकता है.
- .यह 290 किलोमीटर दूर पड़े टार्गेट को तबाह कर सकता है.
- एयरक्राफ्ट में रॉकेट पॉड्स हैं, जिनमें हवा से हवा में मार करने वाली मिसाइलें फिक्स हो सकती हैं.
- इस एयरक्राफ्ट से लेजर गाइडेड बम भी दागे जा सकते हैं.
- Su-30MKI में तरंग रडार लगा होता है, जिसकी मदद से रडार वॉर्निंग रिसीवर इसे खतरों की सटीक जानकारी देते हैं.
- यह किसी भी जैमर को तोड़ने में सक्षम है.