share--v1

AAP-Congress Seat Sharing: दिल्ली में हाथ में झाड़ू लेकर होगी 'सफाई', गुजरात-हरियाणा में भी बनी बात

AAP-Congress Seat Sharing: कांग्रेस और आम आदमी पार्टी (आप) के बीच लोकसभा चुनाव के लिए सहमति बन गई है. विपक्षी दलों के गठबंधन इंडिया में शामिल दोनों दलों के बीच देश के चार राज्यों में सीट बंटवारे के लिए तनातनी चल रही थी, जो अब सुलझ गई है. 

auth-image
India Daily Live

AAP-Congress Seat Sharing:  कांग्रेस और आम आदमी पार्टी (आप) के बीच लोकसभा चुनाव के लिए सहमति बन गई है. विपक्षी दलों के गठबंधन इंडिया में शामिल दोनों दलों के बीच देश के चार राज्यों में सीट बंटवारे के लिए तनातनी चल रही थी, जो अब सुलझ गई है. आज दिल्ली में दोनों दलों ने संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सीट शेयरिंग के बारे में जानकारी दी. दिल्ली में आप चार सीटों पर चुनाव लड़ेगी जबकि कांग्रेस तीन सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी. 

AAP के उम्मीदवार नई दिल्ली, दक्षिणी दिल्ली, पश्चिमी दिल्ली और पूर्वी दिल्ली में चुनाव लड़ेंगे, जबकि चांदनी चौक, उत्तर पूर्वी दिल्ली और उत्तर पश्चिम दिल्ली में कांग्रेस के उम्मीदवार चुनाव लड़ेंगे. दोनों के बीच सीट बंटवारे का संभावित फॉर्मूला सामने आया है. जिन राज्यों का जिक्र हो रहा है, उसमें दिल्ली, हरियाणा, गोवा और गुजरात शामिल हैं. इन चार राज्यों में कुल मिलाकर 45 लोकसभा सीटें हैं. 

दिल्ली 
दिल्ली में लोकसभा की 7 सीटें हैं. कांग्रेस महासचिव और सांसद मुकुल वासनिक ने कहा कि AAP लोकसभा की 4 सीटों नई दिल्ली, पश्चिमी दिल्ली, दक्षिणी दिल्ली और पूर्वी दिल्ली पर चुनाव लड़ेगी. जबकि  कांग्रेस चांदनी चौक, उत्तर पूर्व और उत्तर पश्चिम की सीटों पर चुनाव लड़ेगी. 

गुजरात
कांग्रेस और AAP ने आगामी लोकसभा चुनाव 2024 के लिए गुजरात की 26 लोकसभा सीट पर भी सहमति बना ली है. मुकुल वासनिक ने बताया कि गुजरात में कांग्रेस 24 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. जबकि 2 सीटों- भरूच और भावनगर पर AAP के उम्मीदवार होंगे.

हरियाणा
वहीं, हरियाणा की 10 लोकसभा सीटों में से कांग्रेस 9 सीट पर चुनाव लड़ेगी. जबकि 1 कुरुक्षेत्र लोकसभा सीट पर AAP अपना उम्मीदवार उतारेगी.

गोवा
कांग्रेस महासचिव मुकुल वासनिक ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि गोवा की दोनों लोकसभा सीटों पर कांग्रेस अकेल चुनाव लड़ेगी.

पंजाब में नहीं बनी बात

पंजाब के लिए गठबंधन पर बात नहीं बनी. कांग्रेस और आम आदमी पार्टी वहां पर अलग-अलग चुनाव लड़ेंगी. पंजाब की 13 लोकसभा सीटों  पर AAPअकेले चुनाव लड़ने के मूड में हैं. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पंजाब में 10 फरवरी को इसका ऐलान भी किया था.  समाजवादी पार्टी और कांग्रेस ने यूपी-एमपी की सीटों पर समझौता किया है. समाजवादी पार्टी उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों में से 17 सीटें कांग्रेस को देगी.