menu-icon
India Daily
share--v1

अनोखा होगा PM मोदी का शपथग्रहण समारोह!  5 प्वाइंट्स में समझ लें क्या होने जा रहा खास 

PM Modi Oath Ceremony: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण की तैयारियां लगभग पूरी हो गई हैं. शपथ ग्रहण और विदेशी मेहमानों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए राजधानी दिल्ली में खास प्रबंध किए गए हैं.

auth-image
India Daily Live
PM Modi
Courtesy: Social Media

PM Modi Oath Ceremony: नरेंद्र मोदी भारत के तीसरे प्रधानमंत्री बननने की शपथ लेने जा रहे हैं.वे 9 जून को राष्ट्रपति भवन में अपने मंत्रिमंडल के साथ शपथ ग्रहण करेंगे. इस समारोह का हिस्सा बनने दुनियाभर से मेहमान आ रहे हैं. बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना इस कार्यक्रम में हिस्सा लेने शनिवार को नई दिल्ली पहुंच गई. पीएम मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट में काम करने वाले श्रमिकों को भी न्योता भेजा गया है. इस समारोह में विकसित भारत के एंबेसडर के रूप में वंदे भारत और मेट्रो ट्रेनों में काम करने वाले रेलवे कर्मचारियों को भी निमंत्रण भेजा गया है. पीएम मोदी का प्रधानमंत्री पद के रूप में तीसरा शपथ ग्रहण समारोह कई मायनों में बेहद खास होने जा रहा है.आइए यह जान लेते हैं.

  • नरेंद्र मोदी लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे. इसके अलावा उनकी नई कैबिनेट के सदस्य भी शपथ ग्रहण करेंगे. आजाद भारत के पहले पीएम बनने के बाद वह एकमात्र नेता हैं जो लगातार तीसरी बार पीएम पद की शपथ लेने वाले हैं.

 

  • पीएम मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में भारत के पड़ोसी देशों को भी निमंत्रण भेजा गया है. भूटान, नेपाल, मॉरीशस सहित कई देशों के राष्ट्राध्यक्षों के इस कार्यक्रम में शामिल होने की उम्मीद है. बांग्लादेश की पीएम कार्यक्रम में भाग लेने के लिए नई दिल्ली पहुंच चुकी हैं. 

 

  • पीएम की शपथ लेने से पहले राष्ट्रपति भवन में थ्री लेयर सुरक्षा व्यवस्था लागू की गई है. रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली पुलिस, एनएसजी कमांडो समारोह के आस-पास के इलाकों में मौजूद रहेंगे. इस दौरान पूरी दिल्ली हाई अलर्ट मोड पर रहेगी. 

 

  • प्रधानमंत्री की शपथ से पहले पूरी दिल्ली को नो फ्लाई जोन घोषित कर दिया गया है. इसका अर्थ है कि पैराग्लाइडर, बैलून, रिमोट से चलने वाले प्लेन्स पर रोक लगा दी गई है. 

 

  • रिपोर्ट के मुताबिक, राजधानी दिल्ली की ओर जाने वाली सड़कें बंद रहेंगी और उन पर ट्रैफिक डायवर्जन हो सकता है. राजधानी में आने वाले वाहनों की चेकिंग भी बढ़ा दी गई है. 

 

बीजेपी को हुआ है नुकसान 

लोकसभा चुनाव के नतीजों में बीजेपी के खाते में 292 सीटें आई हैं. वहीं, इंडिय़ा गठबंधन के सहयोगी दलों ने 234 सीटों पर जीत हासिल की है. वहीं, अन्य के खातों में 17 सीटें ही आई हैं. बीजेपी लोकसभा चुनाव की सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है. बीजेपी ने कुल 240 सीटें अकेले ही हासिल की हैं. बीजेपी को साल 2019 के मुकाबले फिर भी 63 सीटों का नुकसान हुआ है.