menu-icon
India Daily
share--v1

'2024 में PM मोदी को हिंदू हृदय सम्राट के रूप में पेश किया जाएगा', शशि थरूर का भाजपा पर तंज

कांग्रेस के सीनियर नेता शशि थरूर ने अयोध्या राम मंदिर और अबू धाबी में बीएपीएस हिंदू मंदिर के उद्घाटन को लेकर तंज कसा. साथ ही उन्होंने कहा कि इन दोनों आयोजन के तुरंत बाद चुनाव कराए जा सकते हैं.

auth-image
Om Pratap
Ram Mandir, Ayodhya, Shashi Tharoor, pm modi, Congress

हाइलाइट्स

  • शशि थरूर ने एक के बाद एक भाजपा से पूछे कई सवाल
  • अयोध्या, आबू धाबी में मंदिर उद्घाटन कार्यक्रम पर कसा तंज

PM Modi presented as Hindu Hriday Samrat in 2024 election: अयोध्या में 22 जनवरी को राम मंदिर और इसके अगले महीने यानी 14 फरवरी को आबू धाबी में हिंदू मंदिर का उद्घाटन पीएम मोदी करेंगे. पीएम मोदी के उद्घाटन कार्यक्रम से पहले कांग्रेस के सीनियर नेता शशि थरूर ने बड़ा दावा किया है. थरूर ने कहा कि 2014 में भाजपा ने मोदी के गुजरात मॉडल को लाकर चुनाव जीता था. 2019 में नोटबंदी, पुलवामा हमला, बालाकोट एयरस्ट्राइक को मुद्दा बनाकर चुनाव जीता और अब 2024 में भाजपा पीएम मोदी को हिंदू हृदय सम्राट के रूप में पेश करेगी.

शशि थरूर ने अगले साल फरवरी में संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी अबू धाबी में एक हिंदू मंदिर के उद्घाटन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आमंत्रित किए जाने पर उन पर निशाना साधा. एक्स हैंडल पर थरूर ने लिखा कि 2024 में भाजपा 'नरेंद्र मोदी' पर वापस लौटेगी. थरूर ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी 22 जनवरी को अयोध्या में राम मंदिर और 14 फरवरी को अबू धाबी में बीएपीएस हिंदू मंदिर का उद्घाटन करेंगे. मुझे उम्मीद है कि इसके तुरंत बाद चुनाव होंगे.

Shashi Tharoor post on X
Shashi Tharoor post on X

थरूर ने भाजपा से पूछे सवाल

थरूर ने कहा कि सवाल उठाता है कि अच्छे दिनों का क्या हुआ? प्रति वर्ष 2 करोड़ नौकरियों का क्या हुआ? आर्थिक विकास का क्या हुआ? हर भारतीय के बैंक खाते में 15-15 लाख का क्या हुआ? बता दें कि पीएम मोदी राम मंदिर के उद्घाटन से पहले शनिवार यानी कल अयोध्या जाएंगे, जहां वे अयोध्या समेत पूरे राज्य के लिए करोड़ों रुपये की विकास परियोजनाओं की सौगात देंगे. 

बता दें कि 22 जनवरी को भगवान रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए 84 सेकंड का अति सूक्ष्म मुहूर्त निकाला गया है. जो 12 बजकर 29 मिनट 8 सेकंड से 12 बजकर 30 मिनट 32 सेकंड तक होगा. पीएम मोदी के हाथों भगवान रामलला की प्राण प्रतिष्ठा होगी.

मंदिर ट्रस्ट की ओर से जारी सात दिवसीय कार्यक्रम 

6 जनवरी : मंदिर ट्रस्ट द्वारा नियुक्त यजमान द्वारा प्रायश्चित, सरयू नदी के तट पर दशाविद स्नान, विष्णु पूजन एवं गोदान.
17 जनवरी: रामलला की मूर्ति के साथ जुलूस निकलेगा अयोध्या, मंगल कलश में सरयू जल लेकर श्रद्धालु मंदिर पहुंचेंगे.
18 जनवरी : गणेश अंबिका पूजा, वरुण पूजा, मातृका पूजा, ब्राह्मण वरण, वास्तु पूजा आदि के साथ विधिवत अनुष्ठान शुरू होंगे.
19 जनवरी: अग्नि स्थापना, नवग्रह स्थापना और हवन.
20 जनवरी : मंदिर के गर्भगृह को सरयू के पवित्र जल से धोने के बाद वास्तु शांति और अन्नाधिवास होगा.
21 जनवरी : 125 कलशों से दिव्य स्नान के बाद शयाधिवास किया जाएगा.
22 जनवरी : सुबह पूजा के बाद दोपहर में मृगशिरा नक्षत्र में रामल्ला के विग्रह का अभिषेक किया जाएगा.

15,000 करोड़ रुपये की विभिन्न परियोजनाओं का करेंगे शिलान्यास

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 30 दिसंबर को उत्तर प्रदेश के अयोध्या का दौरा करने वाले हैं, इसलिए शहर कड़ी सुरक्षा के घेरे में रहेगा. पीएम मोदी अपने अयोध्या दौरे के दौरान 15,000 करोड़ रुपये की विभिन्न परियोजनाओं का उद्घाटन करेंगे. इसमें अयोध्या और उसके आसपास के क्षेत्रों के विकास के लिए लगभग 11,100 करोड़ रुपये की परियोजनाएं और पूरे उत्तर प्रदेश में अन्य परियोजनाओं से संबंधित लगभग 4600 करोड़ रुपये की परियोजनाएं शामिल हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 30 दिसंबर को सुबह 11:40 बजे अयोध्या में छह वंदे भारत व दो अमृत भारत समेत आठ एक्सप्रेस ट्रेन को हरी झंडी दिखाएंगे. इसके साथ ही वह अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन पर तैयार नए भवन का लोकार्पण भी करेंगे. इसके साथ महर्षि वाल्मीकि अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा अयोध्या धाम का उद्घाटन दोपहर लगभग 1 बजे करेंगे.