menu-icon
India Daily
share--v1

Lok Sabha security breach: स्पीकर ओम बिड़ला ने लिया बड़ा फैसला, विजिटर गैलरी के पास बनाने पर लगाई रोक

Lok Sabha security breach:  संसद हमले की 22वीं बरसी पर फिर से सुरक्षा में चूक से अफरातफरी मच गई. विजिटर्स गैलरी से 2 युवक अचानक नीचे कूद गए और बेंच पर भागने लगे.

auth-image
Gyanendra Sharma
Lok Sabha security breach

Lok Sabha security breach:  संसद हमले की 22वीं बरसी पर फिर से सुरक्षा में चूक से अफरातफरी मच गई. विजिटर्स गैलरी से 2 युवक अचानक नीचे कूद गए और बेंच पर भागने लगे. उस समय लोकसभा में बीजेपी सांसद खगेन मुर्मू अपनी बात रख रहे थे. युवकों ने जूते में कुछ स्प्रे छिपा रखा था. उसे निकालकर स्प्रे किया, जिससे सदन में पीला धुआं फैलने लगा. इस दौरान लोकसभा में राहुल गांधी समेत कई नेता मौजूद थे. 

लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला ने लिया बड़ा फैसला

इस घटना के बाद लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला ने बड़ा फैसला लिया है. लोकसभा की विजिटर गैलरी में प्रवेश पर रोक लगा दी गई है. सुरक्षा में सेंध की घटना के बाद स्पीकर ओम बिरला ने बड़ा फैसला लिया है. इससे पहले पुरानी संसद की इमारत में 13 दिसंबर, 2001 को 5 आतंकियों ने हमला किया था. इसमें दिल्ली पुलिस के 5 जवान समेत 9 लोगों की मौत हुई थी.

दो अंदर दो बाहर

जब संसद कार्यवाई चल रही थी तभी दो लोग अंगर दौरान घुसे, उनमें एक का नाम सागर है. दोनों सांसद विजिटर पास पर सदन में आए थे. वहीं, सदन के बाहर एक महिला ओर पुरुष ने पीले रंग का धुआं छोड़ा. सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें पकड़कर बाहर किया. इस दौरान ये लोग नारेबाजी करते देखे गए.

विपक्षी सांसदों ने बताया, सुरक्षा में बड़ी चूक है

लोकसभा में कार्यवाही के दौरान सुरक्षा में हुई चूक के मामले में समाजवादी पार्टी (सपा) सांसद डिंपल यादव ने कहा कि जो भी लोग यहां आते हैं, चाहे वे विजिटर हों या फिर पत्रकार, वे टैग नहीं रखते हैं. इसलिए मुझे लगता है कि सरकार को इस पर ध्यान देना चाहिए. यह पूरी तरह से सुरक्षा चूक है. लोकसभा के अंदर कुछ भी हो सकता था.

उधर कांग्रेस सांसद कार्ति चिदंबरम ने कहा कि अचानक करीब 20 साल के दो युवक दर्शक दीर्घा से सदन में कूद पड़े. उनके हाथ में कुछ संदिग्ध था, जिनसे पीला धुआं निकल रहा था. उनमें से एक अध्यक्ष की कुर्सी की ओर भागने की कोशिश कर रहा था. उन्होंने कहा कि यह सुरक्षा का गंभीर उल्लंघन है, खासकर 13 दिसंबर को, जिस दिन साल 2001 में संसद पर हमला हुआ था.