share--v1

अरविंद केजरीवाल ने सौरभ-आतिशी का नाम क्यों लिया, वीरेन्द्र सचदेवा और मनोज तिवारी ने किया खुलासा

Delhi Liquor Policy Scam Case: दिल्ली के मुख्यमंत्री की ओर से ईडी की कस्टडी में कथित तौर पर यह दावा किया गया है कि शराब घोटाला मामले में आरोपी विजय नायर सौरभ भारद्वाज और आतिशी को रिपोर्ट करते हैं जिस पर बीजेपी नेताओं की प्रतिक्रिया सामने आई है. दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष वीरेन्द्र सचदेवा और सांसद मनोज तिवारी ने इसके पीछे की वजह का खुलासा किया है. 

auth-image
India Daily Live

Delhi Liquor Policy Scam Case: दिल्ली आबकारी नीति मामले में भ्रष्टाचार के आरोप में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को सोमवार को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है. सीएम केजरीवाल अब 15 अप्रैल तक तिहाड़ जेल में बंद रहेंगे. अरविंद केजरीवाल को तिहाड़ भेजे जाने के बाद से प्रतिक्रियाओं का दौर जारी है. एक तरफ विपक्ष केजरीवाल को फंसाए जाने का दावा कर रही है तो वहीं दूसरी तरफ बीजेपी उन्हें घोटाले में लिप्त बता रही है. इस सब के अलावा दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष वीरेन्द्र सचदेवा ने एक बड़ा किया है.

दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष वीरेन्द्र सचदेवा ने कहा है कि सीएम केजरीवाल ने जेल जाने से पहले यह तय किया कि मनीष सिसोदिया, आतिशी और सौरभ भारद्वाज को आरोपित कर सुनीता भाभी जी के मुख्यमंत्री बनने का रास्ता साफ किया जाए. बता दें कि राऊज एवेन्यू कोर्ट में ईडी ने यह दावा किया है कि केजरीवाल ने रिमांड के दौरान बताया है कि शराब नीति मामले में आरोपी विजय नायर मुझे नहीं बल्कि आतिशी और सौरभ भारद्वाज को रिपोर्ट करते थे.

पत्नी को सीएम बनाने के लिए केजरीवाल ने सौरभ-आतिशी का नाम लिया

बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने सीएम केजरीवाल पर हमला बोलते हुए कहा, 'ईमानदारी की होती जो नियत तुम्हारी तो तिहाड़ तक ना जाती सवारी तुम्हारी'. उन्होंने कहा कि सात दिन पहले जब केजरीवाल कोर्ट पहुंचे थे तो उस वक्त उन्होंने सौरभ और आतिशी का नाम नहीं लिया क्योंकि उस वक्त तक उन्हें इस बात का भरोसा था कि उनकी पत्नी सुनीता केजरीवाल को पार्टी अपना अगला मुख्यमंत्री स्वीकार कर लेगी लेकिन जब ऐसा नहीं हुआ तो उन्होंने मुख्यमंत्री बनने के दावेदार आतिशी और सौरभ का नाम लेकर उनके भी जेल जाने का रास्ता तय कर दिया है. 

'ऑपरेशन लोटस के आरोपों पर सबूत दे AAP'

आप नेताओं की ओर से दिल्ली में बीजेपी की ओर से कथित तौर पर ऑपरेशन लोटस के साजिश पर वीरेंद्र सचदेवा ने कहा कि अतिशी और सौरभ भारद्वाज दोनों बिना देर किए ऑपरेशन लोटस से जुड़े आरोपों के सबूत सामने रखें या फिर बीजेपी से माफी मांगें नहीं तो कानूनी कार्यवाही के लिए तैयार रहें. बता दें, सीएम केजरीवाल की गिरफ्तारी के बाद आम आदमी पार्टी के नेताओं ने दावा किया है कि दिल्ली में बीजेपी ऑपरेशन लोटस चलाना चाहती है और इसके लिए विधायकों को 25-25 करोड़ रुपए ऑफर किए जा रहे हैं.