menu-icon
India Daily
share--v1

दिल्ली से हैदराबाद पहुंचे बिहार कांग्रेस के 16 विधायक, 'खरीद-फरोख्त' का डर

बिहार कांग्रेस के सभी विधायकों को हैदराबाद शिफ्ट कर दिया गया है. 12 फरवरी को बिहार विधानसभा फ्लोर टेस्ट होना है. इससे पहले डर है कि कही विधायक 'खरीद-फरोख्त' का शिकार न हो जाएं.

auth-image
Gyanendra Sharma
Bihar MLA

पटना: बिहार में नीतीश कुमार ने लालू का साथ छोड़ दिया. एक बार फिर से बीजेपी के साथ मिलकर सरकार बना ली. गठबंधन सरकार गिरी तो बिहार कांग्रेस में टूट की डर देखा गया. विधायक सत्ता जाते ही दल बदल ने लें इसके डर से बिहार के 16 कांग्रेस विधायक रविवार की शाम में हैदराबाद पहुंचा दिया गया है.  कल से सभी विधायक दिल्ली में थे. सोमवार को तीन और कांग्रेस विधायक हैदराबाद जाएंगे. 

अखिलेश सिंह ने क्या कहा?

जब इसके बारे में बिहार कांग्रेस के अध्यक्ष अखिलेश सिंह के पूछा गया तो उन्होंने कहा कि नई सरकार बनी है, हम सभी विधायक उन्हें बधाई देने के लिए यहां हैं. हम सीएम से मिलेंगे और उन्हें बधाई देंगे. दरअसल 12 फरवरी को बिहार विधानसभा फ्लोर टेस्ट होना है. इससे पहले डर है कि कही विधायक 'खरीद-फरोख्त' का शिकार न हो जाएं. इसके चलते सभी विधायकों को हैदराबाद शिफ्ट किया गया है. 

 

कांग्रेस में लोग डरे हुए हैं

नई दिल्ली में बिहार के डिप्टी सीएम विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि कांग्रेस में लोग डरे हुए हैं. उन्हें अपने विधायकों पर भरोसा नहीं है. वे विधायकों का अपमान करते हैं. कांग्रेस को इस सोच से मुक्त होना चाहिए कि विधायक एक बंधुआ मजदूर है. उधर, बिहार के उपमुख्यमंत्री सम्राट चौधरी और विजय सिन्हा ने रविवार को नई दिल्ली में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और बिहार बीजेपी के प्रभारी एवं पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव विनोद तावड़े से मुलाकात की. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ दोनों उपमुख्यमंत्रियों की मुलाकात की है.