share--v1

भगत सिंह और भीमराव आंबेडकर के बराबर में अरविंद केजरीवाल? सुनीता केजरीवाल ने ये क्या कर डाला

Sunia Kejriwal New Video: अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल ने आज एक नया वीडियो जारी किया है. इस वीडियो में कुछ ऐसा देखने को मिला है जिसे लेकर हंगामा खड़ा हो गया है.

auth-image
India Daily Live
Courtesy: Aam Aadmi Party

सरकारी दफ्तरों में आमतौर पर राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री की तस्वीरें लगी होती हैं. राजनीतिक दल अपने हिसाब से इन्हें बदल भी देते हैं. इसी तरह आम आदमी पार्टी ने एक बदलाव किया था और दिल्ली और पंजाब में शहीद भगत सिंह के साथ-साथ डॉ. भीमराव आंबेडकर की तस्वीर का इस्तेमाल शुरू कर दिया था. अब भगत सिंह और डॉ. आंबेडकर की तस्वीर के बीच अरविंद केजरीवाल की फोटो लगाए जाने से हंगामा खड़ा हो गया है. यह तस्वीर अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल के उस वीडियो में देखी गई है जो वह लगातार जारी कर रही हैं.

अरविंद केजरीवाल के जेल जाने के बाद से ही सुनीता केजरीवाल उनकी ओर से बयान जा रही कर रही हैं. अभी तक वह ठीक अरविंद केजरीवाल की तरह बयान जारी कर रही थीं. इन वीडियो के बैकग्राउंड में दोनों तरफ तिरंगे झंडों के साथ-साथ भगत सिंह और डॉ. भीमराव आंबेडकर की तस्वीर लगी होती थी. खुद AAP लगातार कहती रही है कि वह इन महान शख्सियतों के बताए रास्ते पर चलती है.

नए वीडियो में दिखी अलग बात

गुरुवार को जारी किए गए वीडियो में देखा गया कि सुनीता केजरीवाल के पीछे दो नहीं बल्कि तीन तस्वीरें लगी हुई हैं. तीसरी तस्वीर अरविंद केजरीवाल की थी. इस तस्वीर को भगत सिंह और डॉ. आंबेडकर की तस्वीर के ठीक बराबर में और बीच में लगाया गया था. अपने इस बयान में सुनीता केजरीवाल ने कहा कि जेल से अरविंद केजरीवाल का संदेश है, 'मेरे जेल में होने से दिल्ली के लोगों को किसी भी तरह की परेशानी नहीं होनी चाहिए. हर विधायक हर दिन अपने क्षेत्र का दौरा करे और लोगों की समस्याओं पर चर्चा कर उनका समाधान करे."

देश के महापुरुषों के बीच केजरीवाल की फोटो लगाने को लेकर अब बीजेपी ने सवाल उठाए हैं. दिल्ली बीजेपी ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा है, "जब नाश मनुज पर छाता है पहले विवेक मर जाता है." बीजेपी ने केजरीवाल को शराब घोटाले का सरगना बताते हुए कहा है कि अब ये अपनी तुलना शहीद भगत सिंह और बाबा साहब भीम राव आंबेडकर से करने लगे हैं.

Also Read