menu-icon
India Daily
share--v1

'अयोध्या में प्राण प्रतिष्ठा गर्व की बात, हमें नंबर 1 बनने से कोई नहीं रोक सकता', गणतंत्र दिवस समारोह में क्या-क्या बोले केजरीवाल?

गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर छत्रसाल स्टेडियम में आयोजित समारोह दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि 22 जनवरी को अयोध्या में राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा दुनिया भर में सभी के लिए बेहद गर्व और खुशी की बात थी.

auth-image
Om Pratap
Arvind Kejriwal over Ramrajya Ram temple Pran Pratishtha in Ayodhya

हाइलाइट्स

  • केजरीवाल बोले- भारत को दुनिया का नंबर 1 देश बनने से कोई नहीं रोक सकता
  • भगवान राम के त्याग और मर्यादा को जीवन में उतारने की जरूरत: अरविंद केजरीवाल

Arvind Kejriwal over Ramrajya Ram temple  Pran Pratishtha: गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर यानी आज दिल्ली के छत्रसाल स्टेडियम में अरविंद केजरीवाल ने एक समारोह को संबोधित किया. राज्य स्तरीय गणतंत्र दिवस समारोह को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि 22 जनवरी को अयोध्या में राम मंदिर की प्राण प्रतिष्ठा दुनिया भर में सभी के लिए बेहद गर्व और खुशी की बात है.

केजरीवाल ने कहा कि हम सीनियर सिटीजन के लिए 12 तीर्थ स्थलों की मुफ्त में 'तीर्थ-यात्रा' कराते हैं. अब तक 83,000 लोगों को 'तीर्थ-यात्रा' पर ले जाया गया है. कई लोगों ने अयोध्या जी के दर्शन करने की इच्छा जताई है. हम अधिक से अधिक लोगों को अयोध्या जी ले जाने का प्रयास करेंगे.

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि एक तरफ जहां हमें खुद को भगवान राम के लिए समर्पित करना है, तो वहीं दूसरी ओर हमें पूरी ईमानदारी के साथ अपने राष्ट्र के कल्याण के लिए खुद को समर्पित करना होगा. उन्होंने कहा कि अगर हम भगवान राम के रास्ते पर चलें तो भारत को दुनिया का नंबर 1 देश बनने से कोई नहीं रोक सकता.

बोले- भगवान राम के त्याग और मर्यादा को जीवन में उतारने की जरूरत

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पूरे देश ने अयोध्या में भगवान राम के प्राण प्रतिष्ठा का उत्सव मनाया. आज हम सभी को भगवान राम के त्याग और मर्यादा को अपने जीवन में उतारने की आवश्यकता है. उन्होंने कहा कि आज एक सेठ के दो बच्चे हैं, दोनों भगवान राम का चोला ओढ़ कर बैठे हैं लेकिन अपने पिता की मौत के बाद कोर्ट में ज़मीन जायदाद के लिए लड़ रहे हैं, भगवान राम भी सोच रहे होंगे कि ये मेरे कैसे भक्त है जो आपस में लड़ रहे हैं? केजरीवाल ने भगवान राम के बारे में बात करते हुए कहा कि हमें रामलला के संदेश को अपने जीवन में शामिल करने की जरूरत है.