menu-icon
India Daily
share--v1

'बीजेपी का पहचान है लूट और झूठ', अखिलेश यादव ने जमकर लगाई मोदी सरकार की क्लास

Akhilesh Yadav on BJP: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने एक रैली के दौरान बीजेपी पर जमकर हमला बोला है और इस दौरान उनकी पहचान लूट और झूठ बताया है.

auth-image
India Daily Live
Akhilesh Yadav
Courtesy: Samajwadi Party

Akhilesh Yadav on BJP: लोकसभा चुनाव के मद्देनजर सभी राजनीतिक दल इस समय चुनावी रैलियों में मशगूल हैं ताकि अपने प्रत्याशियों को चुनाव जिता कर आम चुनाव में बढ़त हासिल कर सकें. इस बीच मंगलवार को अलीगढ़ के प्रत्याशी बिजेन्द्र सिंह और हाथरस के प्रत्याशी जसबीर बाल्मीकि के समर्थन में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रैली की और भारतीय जनता पार्टी पर जमकर हमला बोला.

लूट और झूठ है बीजेपी की पहचान

इस रैली के दौरान अखिलेश यादव ने बीजेपी की पहचान लूट और झूठ बताया है. अखिलेश यादव ने इस दौरान बीजेपी पर ही भ्रष्टाचार करने के आरोप लगाए और कहा कि दूसरों पर आरोप लगाने वाले खुद सबसे बड़ा भ्रष्टाचारी हैं.
उन्होंने कहा,'बीजेपी ने सारे अपराधियों, भ्रष्टाचारियों को अपनी पार्टी में शामिल कर लिया है और इलेक्टोरल बॉन्ड के जरिए तगड़ा भ्रष्टाचार किया है. चुनावी चंदे के नाम पर कई हजार करोड़ की वसूली की है जिसका खुलासा सुप्रीम कोर्ट के फैसले के चलते हुआ. इलेक्टोरल बॉन्ड ने बीजेपी का बैंड बजा दिया है और बीजेपी नेताओं की बोलती बंद कर दी है. वो लोकतंत्र और संविधान को खत्म करने के लिए साजिशन कदम बढ़ा रही है.'

संविधान खत्म करना चाह रही है बीजेपी

अखिलेश यादव ने इस दौरान बाबा भीमराव अंबेडकर को याद करते हुए कहा कि देश का संविधान संकट में है जिसे बीजेपी चुनाव जीतने के बाद बदलना चाह रही है और आरक्षण खत्म करना चाहती है. अखिलेश यादव ने जनता को सावधानी से वोट करने की अपील करते हुए कहा कि उन्हें लोकतंत्र और संविधान को बचाने के लिए वोट करना चाहिए.

उन्होंने कहा,'BJP ने 10 सालों तक जुमलेबाजी की और अब गारंटी का झांसा दे रहे हैं. देश को बीजेपी की झूठी गारंटी नहीं बल्कि बाबा साहेब के संविधान की रक्षा वाली गारंटी चाहिए. बीजेपी संविधान को खत्म कर जनता से वोट डालने का अधिकार छीनना चाहती है.'

पहले चरण के मतदान से घबरा गई है बीजेपी

अखिलेश यादव ने इस दौरान पहले चरण के चुनाव पर भी चर्चा की और कहा कि पहले चरण के मतदान के बाद बीजेपी घबरा गई है और ये घबराहट दिल्ली और लखनऊ के नेताओं के भाषण में साफ देखा जा सकता है. इंडिया गठबंधन की बढ़त की चर्चा पूरे देश में हो रही है.

उन्होंने कहा,'पहले चरण के मतदान के बाद बीजेपी डर गई है और अब उसके नेताओं ने दूसरी पार्टियों के लिए झूठ फैलाना शुरू कर दिया है. वो अब अपने मन की बात करने लगे हैं लेकिन उन्हें समझना होगा कि अब संविधान की बात होगी न कि किसी के मन की. जनता बीजेपी को हटाने के लिए तैयार है और अलीगढ़ की जनता जीत का वही रिकॉर्ड बनाने जा रही है.'

गरीब मरे पर उद्योगपतियों के कर्ज हुए माफ

अलीगढ़ में वोटर्स को लुभाने के लिए अखिलेश यादव ने क्षेत्र की पहचान गंगा जमुनी तहजीब को बताया और कहा कि अलीगढ़ की जनता बीजेपी के नफरती मंसूबों को कामयाब नहीं होने देगी और उस पर ताला लगा देगी. बीजेपी ने 10 साल की सरकार में जनता को सिर्फ दुख और परेशानी दी है, किसानों के खिलाफ 3 काले कानून लाकर धोखा दिया, नोटबंदी और जीएसटी से संकट बढ़ाया, नौजवानों का जीवन बर्बाद कर दिया.

उन्होंने कहा,'जहां बीजेपी सरकार में गरीबी और महंगाई से परेशान एक लाख लोगों से ज्यादा किसानों ने आत्महत्या कर ली तो वहीं मोदी सरकार ने उद्योगपतियों का 15 लाख करोड़ का लोन माफ कर दिया. आंदोलन कर रहे किसानों को अपमानित किया जा रहा है. पर इस बार इंडिया गठबंधन की सरकार आ रही है जिसका फायदा किसानों को मिलेगा.'