menu-icon
India Daily
share--v1

चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने मानी भारत की ताकत, PM मोदी के नेतृत्व को सराहा 

Global Times Praises Modi Government: बदल रहे भारत की दास्तां से अब विदेशी मीडिया भी हैरान है. चीन सरकार के मुखपत्र कहे जाने वाले ग्लोबल टाइम्स ने अपने लेख में बदलते और विकसित होते भारत की जमकर तारीफ की है.

auth-image
Shubhank Agnihotri
Modi

Global Times Praises Modi Government: बदल रहे भारत की दास्तां से अब विदेशी मीडिया भी हैरान है. चीन सरकार के मुखपत्र कहे जाने वाले ग्लोबल टाइम्स ने अपने लेख में बदलते और विकसित होते भारत की जमकर तारीफ की है. ग्लोबल टाइम्स ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व को काफी सराहा है. अपने लेख में कहा कि भारत वर्तमान समय में आर्थिक, सामाजिक, और विदेश नीति के नए पर्याय बना रहा है और असाधारण प्रगति कर रहा है. ग्लोबल टाइम्स ने यह भी कहा कि भारत अब विकसित भारत बनने में रणनीतिक रूप से पहले की तुलना में और ज्यादा सक्रिय हो गया है. 

लेख में भारत की प्रगति पर जोर 

ग्लोबल टाइम्स ने शंघाई के फुडन यूनिवर्सिटी के सेंटर फॉर एशियन स्टडीज के डायरेक्टर झांग जियाडोंग के एक लेख को जगह दी है. इस लेख में भारत ने बीते चार सालों में क्या प्रगति हासिल की है इस पर प्रकाश डाला गया है. इस लेख में भारत की मजबूत आर्थिक नींव, गवर्नेंस के स्तर पर सुधार, अंतर्राष्ट्रीय संबंधों खासतौर पर चीन के साथ बदल रहे समीकरणों पर चर्चा की गई है. 

वैश्विक शक्तियों के साथ बराबरी के संबंध

जियाडोंग के इस लेख में भारतीय विदेश नीति को भी सराहा गया है.लेख में कहा गया कि भारत ने बीते 10 सालों की अवधि में अमेरिका, जापान, रूस, फ्रांस जैसी वैश्विक शक्तियों के साथ अपने संबंधों को और मजबूत किया है. भारत ने विदेशी शक्तियों के अंधानुकरण के बजाए उनके साथ बराबरी के संबंध स्थापित किये हैं. इस लेख में कहा गया कि भारत ने अपनी विदेश नीति और सोच में बड़ा बदलाव आया है. यह बदलाव उसके एक महान शक्ति के रूप में होने को प्रदर्शित करता है.

पीएम मोदी के बाद आया बड़ा बदलाव

जियाडोंग अपने लेख में आगे लिखते हैं कि भारत में यह बदलाव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सत्ता में आने के बाद हुआ है. उन्होंने पश्चिमी देशों के साथ-साथ क्षेत्रीय समूहों में भी भारत के कद को बढ़ाने का प्रयास किया है. भारत हमेशा से ही खुद को एक वैश्विक शक्ति मानता रहा है अब वह मल्टीपोलर वर्ल्ड की दिशा में आगे बढ़ रहा है.