menu-icon
India Daily
share--v1

Pew Survey: PM नरेंद्र मोदी को पसंद करते हैं 80 फीसदी भारतीय, दुनिया में बढ़ा भारत का दबदबा

वैश्विक स्तर पर भारत के प्रभाव को लेकर एक सर्वे किया है. वैश्विक प्रभाव को लेकर की गई स्टडी में 68 प्रतिशत भारतीयों का मानना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में भारत का प्रभाव बढ़ा है

auth-image
Abhiranjan Kumar
Pew Survey: PM नरेंद्र मोदी को पसंद करते हैं 80 फीसदी भारतीय, दुनिया में बढ़ा भारत का दबदबा

Pew Survey PM Narendra Modi: भारत में G20 देशों का शिखर सम्मेलन होने जा रहा है. इस अहम शिखर सम्मेलन से पहले प्यू रिसर्च सेंटर ने वैश्विक स्तर पर भारत के प्रभाव को लेकर एक सर्वे किया था जिसकी रिपोर्ट जारी कर दी गई है. सर्वे में पूछा गया था कि क्या दुनिया के अन्य देशों के बीच भारत का दबदबा बढ़ा है. तकरीबन 68 फीसदी भारतीयों का मानना है कि दुनिया के पटल पर भारत का दबदबा बढ़ा है. सर्वे के अनुसार तकरीबन 80 फीसदी भारतीयों ने पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) पर भरोसा जताया है. सर्वे में करीब 12 अन्य देशों के 37 फीसदी वयस्कों ने पीएम मोदी के काम की सराहना की है.

24 देशों में किया गया सर्वे

बता दें कि प्यू रिसर्च सेंटर की तरफ से किए गए इस सर्वे में भारत सहित 24 देशों के 30,861 वयस्क शामिल किए गए थे. ये सर्वे 20 फरवरी से 22 मई तक किया गया था. सर्वे की रिपोर्ट के मुताबिक लगभग 10 में से 8 भारतीय पीएम मोदी के बारे में सकारात्मक विचार रखते हैं. इनमें से अधिकांश (55 प्रतिशत) का दृष्टिकोण बेहद सकारात्मक है.  

 

बढ़ा भारत का प्रभाव

प्यू रिसर्च सेंटर ने जो सर्वे किया है उसके मुताबिक 10 में से 7 भारतीयों का मानना है कि उनका देश हाल के वर्षों में अधिक प्रभावशाली हो गया है. सर्वे में ये भी कहा गया है कि दुनिया भर में भारत के बारे में आमतौर पर सकारात्मक राय थी. औसतन 46 प्रतिशत लोगों ने भारत के बारे में सकारात्मक विचार व्यक्त किए. 16 प्रतिशत लोगों ने कोई राय नहीं दी. इस रिपोर्ट में ये भी बताया गया है कि इजरायल के लोगों को भारत पर सबसे ज्यादा भरोसा है. इजरायल में 71 फीसदी लोगों का रुख भारत के प्रति सकारात्मक है.

विदेश नीति की है अहम भूमिका

प्यू रिसर्च सेंटर की तरफ से किए गए सर्वे की रिपोर्ट में पिछले साल किए गए अलग-अलग सर्वेक्षणों के परिणामों को भी शामिल किया गया है. इसमें कहा गया है कि मोदी सरकार की विदेश नीति के कारण आज वैश्विक स्तर पर भारत की सकारात्मक छवि बनी है. वहीं, भारतीयों के बीच अमेरिका, रूस और चीन के बारे में अलग विचार हैं. 65 फीसदी भारतीय वयस्क अमेरिका को अनुकूल दृष्टि से देखते हैं, जबकि विश्व स्तर पर अमेरिका के लिए औसत अनुकूलता रेटिंग 59 फीसदी है. करीब 57 फीसदी भारतीय रूस को अनुकूल दृष्टि से देखते हैं, जबकि 23 अन्य देशों के मात्र 14 फीसदी लोगों के समान विचार हैं. भारत में जिन देशों को सबसे ज्यादा नापसंद किया जाता है वो चीन और पाकिस्तान हैं.

यह भी पढ़ें: I.N.D.I.A गठबंधन की मुंबई में तीसरी बैठक आज, सीट शेयरिंग समेत कई अहम मुद्दों पर होगा मंथन