share--v1

Randeep Hooda wedding : रणदीप हुड्डा ने सदियों पुराने इस मैतेई रिवाज से रचाई है लिन लैशराम से शादी, जानें इसमें क्या है खास?

Randeep Hooda And Lin laishram marriage : बॉलीवुड के जाने-माने अभिनेता रणदीप हुड्डा ने अपनी गर्लफ्रेंड लिन लैशराम से शादी कर ली है. उन्होंने यह शादी मैतेई रीति-रिवाजों से की है. यह रिवाज काफी अलग होता है. 

auth-image
Mohit Tiwari
फॉलो करें:

हाइलाइट्स

  • 350 साल पुराना है रिवाज
  • मणिपुर में की है शादी

Randeep Hooda And Lin laishram marriage : जाने-माने बॉलीवुड अभिनेता रणदीप हुड्डा और लिन लैशराम शादी के बंधन में बंध गए हैं. उनकी शादी की खूबसूरत तस्वीरें सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही हैं. इस शादी की हर कोई चर्चा भी कर रहा है, क्योंकि यह शादी सदियों पुराने मैतेई रिवाज से की गई है. रणदीप हुड्डा ने मणिपुर के अनोखे मैतेई रिवाज से शादी रचाई है. यह रिवाज काफी अलग और आकर्षक होता है. उन्होंने मणिपुर में ही शादी की है. 

क्या है यह मैतेई रिवाज, जिसको अपनाकर लिन के पति बने रणदीप?

रणदीप हुड्डा और एक्ट्रेस लिन लैशराम ने मैतेई रिवाज से शादी की है. इस रिवाज को 350 साल पुराना बताया जा रहा है. मैतेई रस्म में दुल्हन के परिवार की तीन महिलाएं द्वारा दूल्हा और उसके परिवार वालों का केले के पत्ते से कवर एक थाली से स्वागत किया जाता है. इस थाली में पान और सुपारी होता है. इस रस्म में दूल्हा सफेद रंग के कपड़े पहनता है. इसके साथ ही मैतई रिवाज में जयमाला पहनाने के बाद दुल्हन-दूल्हे को हाथ जोड़कर प्रणाम करती है. इस रिवाज में सबसे खास बात यह है कि इसमें तुलसी के पौधे को साक्षी मानकर दूल्हा और दुल्हन वचन लेते हैं. इसके साथ ही इस खास रस्म में दुल्हन के पिता भी दूल्हे पूजा करते हैं. इसके बाद दुल्हन का परिवार दूल्हा और दुल्हन दोनों को गिफ्ट या पैसा देकर शगुन देते हैं. इसी प्रकार घर के बाकी सदस्य भी अलग-अलग अंदाज में दूल्हा और दुल्हन का सम्मान करते हैं. 

इस प्रकार होती है वरमाला

इस शादी में खास बात यह होती है कि इसमें बैठकर जयमाला की रस्म होती है. नॉर्मल जयमाला की रस्म को खड़े होकर निभाया जाता है, लेकिन मैतेई रिवाज में बैठकर वरमाला पहनाने की रस्म निभाई जाती है. इसके लिए जैशमीन फ्लावर्स की माला तैयार की जाती है, जो दूल्हा और दुल्हन एक दूसरे को पहनाते हैं. 

खास होता है शादी का जोड़ा

मैतेई रस्म में दूल्हा और दुल्हन के लिए एक विशेष पोशाक तैयार किया जाता है. शादी में दूल्हा सफेद रंग का धोती और कुर्ता पहनता है और दुल्हन सफेद-सुनहरे रंग की खूबसूरत ड्रेस पहनती है. यह स्कर्ट बांस और मोटे फैब्रिक से बनाई जाती है. मैतेई रस्म में दूल्हे को सफेद रंग की पगड़ी बांधी जाती है. इस पर गोल्डन चौड़े गोटापट्टी का वर्क किया जाता है. इसे गोलाई में डिजाइन किया जाता है. 

Also Read

First Published : 30 November 2023, 06:21 PM IST