share--v1

रेलवे यूनियन ने सरकार को दिया अल्टीमेटम, अगर नहीं किया ये काम तो ठप हो जाएगा भारत का रेल रूट

Railway Union Ultimatum: केंद्र सरकार को रेलवे यूनियन की ओर से एक अल्टीमेटम दिया गया है. रेलवे यूनियन ने 1 मई से देश भर में सभी ट्रेन सेवाएं बंद करने की बात कही है.

auth-image
India Daily Live

Railway Union Ultimatum: पुरानी पेंशन योजना को वापस लागू करने के ज्वाइंट फोरम फॉर रिस्टोरेशन ऑफ ओल्ड पेंशन स्कीम के तहत एकजुट रेलवे कर्मचारियों और श्रमिकों ने केंद्र सरकार को अल्टीमेटम दे दिया है. कर्मचारियों ने सरकार को अल्टीमेटम देते हुए कहा है कि अगर पुरानी पेंशन योजना को लागू नहीं की गई तो वह 1 मई से देश भर में सभी ट्रेन सेवाएं बंद कर देंगे.

ज्वाइंट फोरम फॉर रिस्टोरेशन ऑफ ओल्ड पेंशन स्कीम के संयोजक शिव गोपाल मिश्रा ने कहना है कि सरकार न्यू पेंशन स्कीम की जगह पुरानी पेंशन योजना बहाली की मांग के प्रति प्रतिबद्ध नहीं है इसलिए अब हमारे पास कोई विकल्प नहीं बचा है. उन्होंने कहा कि 19 मार्च को हम आधिकारिक तौर पर एक नोटिस देकर रेल मंत्रालय को देशव्यापी हड़ताल और व्यवधान के बारे में सूचित करेंगे और फिर 1 मई   से अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू करेंगे.

'OPS कर्मचारियों के हित में है'

जेएफआरओपीएस की ओर से एक बयान जारी कर कहा गया है कि सभी घटक संगठनों से अनुरोध है कि वे संबंधित प्रशासन को उचित तरीके से हड़ताल के बारे में नोटिस देने के लिए अपनी तैयारी पूरी करें. बयान में कहा गया है कि ओपीएस कर्मचारियों के हित में है लेकिन नई पेंशन योजना कर्मचारियों के कल्याण का ख्याल नहीं रखती है.

क्या है ओल्ड पेंशन स्कीम

पुरानी पेंशन स्कीम में सरकारी नौकरी से रिटायर कर्मचारियों को पेंशन का अधिकार देने का प्रावधान है. ओपीएस में पेंशन की राशि रिटायरमेंट के वक्त तक मिलने वाले मूल वेतन का 50 प्रतिशत होता है. पुरानी पेंशन स्कीम के तहत रिटायर्ड कर्मचारियों को भी वर्किंग एंप्लाई की तरह महंगाई समेत अन्य भत्ता का लाभ मिलता है. आसान शब्दों में कहें तो अगर सरकार किसी भी तरह के भत्ते में बढ़ोतरी करती है तो रिटायर्ड कर्मचारियों के पेंशन में भी बढ़ोतरी देखने को मिलती है.

First Published : 29 February 2024, 10:59 PM IST