जानें कैसे मशहूर पं. प्रदीप मिश्रा बने 'सीहोर वाले बाबा'?


2024/02/25 02:54:14 IST

कौन हैं प्रदीप मिश्रा?

    पं. प्रदीप मिश्रा एक फेमस कथावाचक हैं. इसके साथ ही ये शिवपुराण की कथा अधिक करते हैं.

Credit: google

इतना हैं पढ़े-लिखे

    पं. प्रदीप मिश्रा का जन्म साल 1980 में सीहोर में हुआ था. उन्होंने ग्रेजुएशन किया है.

Credit: google

यह है उपनाम

    प्रदीप मिश्रा का उपनाम रघु भी है. इसके साथ ही उनके पिता रामेश्वर मिश्रा थे.

Credit: google

गरीब परिवार से आते हैं प्रदीप मिश्रा

    पं. प्रदीप मिश्रा के पिता चने का ठेला लगाते थे. इसके बाद उन्होंने चाय की दुकान खोल ली. प्रदीप मिश्रा भी अपने पिता की मदद करते थे.

Credit: google

भक्ति और भजन में थी रुचि

    पं. प्रदीप मिश्रा को बचपन से ही भक्ति और भजन में रुचि थी.

Credit: google

यहां शुरु किया कथावाचन

    उन्होंने शिव मंदिर में कथा वाचन शुरु किया था. वे शिव मंदिर की सफाई किया करते थे. इनको पहले सीहोर वाले बाबा के नाम से जाना जाता था.

Credit: google

बताते थे उपाय

    प्रदीप मिश्रा लोगों को समस्याओं से मुक्ति दिलाने के लिए उपाय भी बताते थे. वे अपनी कथा में कहते थे कि 'एक लोटा जल समस्या का हल' मतलब भगवान शिव को एक लोटा जल चढ़ाने से सभी समस्याओं का समाधान हो जाता है.

Credit: google

यहीं से हुए फेमस

    इसी जगह से ईश्वर की उनपर ऐसी कृपा हुई कि आज वे एक कथा करने का 7 से 8 लाख तक रुपये लेते हैं. कुछ रिपोर्ट में इस रकम को 21 लाख तक भी बताया गया है.

Credit: google

सोशल मीडिया पर रहते हैं छाए

    पं. प्रदीप मिश्रा की फ्रेंड फॉलोइंग भी काफी अच्छी है. वे सोशल मीडिया और फेसबुक पर छाए रहते हैं.

Credit: google
More Stories