जगन्नाथ पुरी मंदिर के खजाने में कितना है सोना-चांदी और पैसा


जगन्नाथ पुरी में है खजाने का भंडार

    ओडिशा के जगन्नाथ पुरी मंदिर में खजाना के भंडार है. इसमें 2 रत्न भंडार हैं.

Credit: pexels

40 साल के बाद नहीं खोला गया एक भंडार

    इन दो भंडारों में एक तो हर त्योहार में खोला जाता है. वहीं, दूसरा रत्न भंडार 1978 में खोला गया था.

Credit: pexels

नियमित खुलता है बाहरी कक्ष

    मंदिर का बाहरी रत्न भंडार नियमित रूप से खोला जाता है. त्योहारों पर भगवान के आभूषण निकाले जाते हैं.

Credit: pexels

आंतरिक भंडार को भी खोलने के लिए हुई थी कोशिश

    मंदिर के आंतरिक रत्न भंडार को हाईकोर्ट के निर्देश पर 4 अप्रैल 2018 में खोलने का प्रयास किया गया था.

Credit: pexels

नहीं मिल पाई थीं चाबियां

    मंदिर प्रशासन को आंतरिक रत्न भंडार की चाबियां नहीं मिल पाई थीं. इस कारण इसे खोला नहीं जा सका था.

Credit: pexels

इतना है खजाना

    साल 2021 में तत्काली कानून मंत्री प्रताप जेना ने विधानासभा में रत्न भंडार में मौजूद खजाने का ब्योरा 1978 के अनुसार दिया था.

Credit: pexels

इतना था सोना-चांदी

    इस भंडार में 12,831 भारी सोना, 22,153 भारी चांदी थी. एक भारी 11.66 ग्राम के बराबर है.

Credit: pexels

मंहगे पत्थर भी थे शामिल

    सोना और चांदी के साथ ही महंगे पत्थर, चांदी के बर्तन और अन्य कीमती सामान भी इसमें था.

Credit: pexels

14 वस्तुओं का नहीं हो पाया था वजन

    इस इन्वेंट्री प्रक्रिया के दौरान 14 सोने और चांदी की वस्तुओं का वजन नहीं किया जा सका था.

Credit: pexels
More Stories