ये चीज बना रही फैटी लिवर का शिकार, शराब नहीं पीने वाले भी रहें सावधान


गंभीर समस्या

    फैटी लिवर एक गंभीर समस्या बनती जा रही है. कम उम्र में भी लोग इसका शिकार बन रहे हैं. इस बीमारी से लिवर फेल होने का डर बना रहता है.

Credit: Social Media

शराब पीना वजह

    हेल्थ एक्सपर्ट्स का मानना है कि फैटी लिवर की सबसे बड़ी वजह शराब पीना, स्ट्रीट फूड और फास्ट फूड खाना है.

Credit: Social Media

नॉन-एल्कोहलिक फैटी लिवर

    रोचक तथ्य यह है कि शराब नहीं पीने वालों में भी फैटी लिवर की बीमारी पाई जा रही है. जिसे नॉन-एल्कोहलिक फैटी लिवर कहा जाता है.

Credit: Social Media

फास्ट फूड खाना

    नॉन- एल्कोहलिक फैटी लिवर की वजह खराब रहन-सहन, समय पर भोजन न करना और फास्ट फूड खाना है.

Credit: Social Media

20 से 30 साल

    आमतौर पर 20 से 30 साल की उम्र के शख्स में भी यह बीमारी पाई जा रही है.

Credit: Social Media

WHO की रिपोर्ट

    WHO की रिपोर्ट के मुताबिक करीब 25% आबादी को नॉन-अल्कोहलिक फैटी लिवर की प्रॉब्लम है. अकेले अमेरिका में ही करीब 100 मिलियन लोग इस बीमारी की चपेट में हैं.

Credit: Social Media

मरीजों में इजाफा

    चिंता की बात यह है कि भारत में भी हर साल इसके मरीजों में इजाफा हो रहा है. जिसकी वजह फास्ट फूड खाना और एक्सरसाइज न करना बताया जा रहा है.

Credit: Social Media

शुरुआती लक्षण

    फैटी लिवर बीमारी का शुरुआती लक्षण थकान, पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द महसूस होना है. इस बीमारी के गंभीर होने पर खुजली, पैरों में दर्द और सूजन की समस्या होती है.

Credit: Social Media

डॉक्टरों की सलाह

    अगर ऐसा लक्षण नजर आता है तो नजरअंदाज बिल्कुल न करें और समय रहते डॉक्टरों का उचित सलाह लें.

Credit: Social Media