दुश्मन भरेंगे पानी! रूस ने बना लिया शैतान S-500...


दुश्मनों की अब खैर नहीं

    रूस के दुश्मनों की अब खैर नहीं है. दरअसल रूस ने हाइपरसोनिक हथियारों का मुकाबला करने के लिए S-500 मिसाइल डिफेंस सिस्टम तैनात करने का फैसला किया है.

मिसाइल की तैनाती प्रमुख लक्ष्य

    रूस ने कहा है कि वह इस साल एस-500 एंटी एयरक्राफ्ट मिसाइल की तैनाती के प्रमुख लक्ष्य पर काम कर रहा है.

सैन्य तकनीकी सहायता

    इस दौरान मंत्री ने बताया कि इस साल रूस के सशस्त्र बलों को सैन्य तकनीकी सहायता पूरा करने के लिए इस मिसाइल को तैनात किया जाना जरूरी है.

दूसरे डिफेंस सिस्टम को करेगी नाकाम

    रूस की यह मिसाइल शैतान-2 के नाम से जानी जाती है. यह मिसाइल 200 टन से ज्यादा वजन वाली है और कई हथियार ले जाने की क्षमता रखती है. यह दूसरे डिफेंस सिस्टम को नाकाम करने के लिए डिजाइन की गई है.

एस-500 एंटी एयरक्राफ्ट मिसाइल सिस्टम

    इस मिसाइल के साथ रूसी बल एस-500 एंटी एयरक्राफ्ट मिसाइल प्रणाली की तैनाती भी इस साल करेगी.

दुनिया का सबसे उन्नत मिसाइल सिस्टम

    एस- 500 मिसाइल सिस्टम को दुनिया का सबसे ज्यादा उन्नत मिसाइल सिस्टम माना जाता है. यह क्रूज और बैलिस्टिक मिसाइलों को तबाह कर सकता है.

इतनी है मारक क्षमता

    एस-300 और एस-400 की रेंज जहां 400 किमी तक होती है. वहीं, एस-500 की रेंज 600 किमी तक मानी जा रही है.

More Stories