UP के 8 बड़े माफिया जिनसे पुलिस भी खाती थी खौफ!


मुख्तार अंसारी

    मुख्तार अंसारी को उत्तर प्रदेश का बाहुबली कहा जाता था. मऊ से 5 बार के विधायक अंसारी के खिलाफ करीब 48 गंभीर मामलों के केस दर्ज हैं. फिलहाल जेल में बंद है.

बृजेश सिंह

    बृजेश सिंह यूपी के पूर्वांचल का माफिया डॉन रहा है. बृजेश सिंह का खौफ सिर्फ यूपी-बिहार ही नहीं बल्कि मुंबई तक रहा है. बृजेश के खिलाफ 40 से ज्यादा केस दर्ज हैं.

रघुराज प्रताप सिंह (राजा भैया)

    उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ के रहने वाले रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया लगातार 7 बार के विधायक हैं. पूर्वांचल में राजा भैया को माफिया कहा जाता है. उनके खिलाफ 47 केस दर्ज हैं.

विजय मिश्रा

    विजय मिश्रा भदोही से विधायक रहे हैं. उनके खिलाफ गैंगस्टर समेत ई़डी का मामला भी दर्ज है. कब्जा और रेप का मुकदमा भी विजय मिश्रा पर है.

राजन तिवारी

    UP के गोरखपुर का रहने वाला राजन बिहार से दो बार का विधायक भी रह चुका है. उसके खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई भी हुई. करीब 17 साल से फरार राजन को पुलिस ने भारत नेपाल बॉर्डर से पकड़ा था.

सुधीर कुमार सिंह

    गोरखपुर का रहने वाला सुधीर कुमार सिंह बसपा नेता और ब्लॉक प्रमुख भी रहा है. उसके खिलाफ हत्या, हत्या का प्रयास समेत संगीन धाराओं के 26 केस दर्ज हैं.

रिजवान जहीर

    रिजवान जहीर उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिले का रहने वाला है. समाजवादी पार्टी के नेता औ पूर्व सांसद के खिलाफ एक दर्जन से ज्यादा केस दर्ज हैं. इनमें हत्या के केस भी शामिल हैं.

अनुपम दुबे

    1996 में कन्नौज के एक थाना प्रभारी रामनिवास यादव की ट्रेन में गोली मारकर हत्या करने के बाद अनुपम दुबे का नाम सुर्खियों में आया था. बसपा नेता रहे अनुपम के खिलाफ 41 केस दर्ज हैं.

More Stories