इस वजह से 3 महीने तक तिहाड़ जेल में बंद थे राजपाल यादव


3 महीने जेल

    राजपाल यादव ने एक ऐसा वक्त भी देखा जब उन्हें 3 महीने तक जेल की सजा काटनी पड़ी थी.

बना रहे थे फिल्म

    दरअसल, साल 2010 में जब राजपाल यादव फिल्म 'अता पता लापता' बना रहे थे, तब उन्होंने लोन लिया था.

किससे लिया लोन

    राजपाल यादव ने इंदौर के रहने वाले सुरेंदर सिंह से 5 करोड़ का लोन लिया था.

चेक बाउंस

    राजपाल ने सुरेंदर को तब AXIS BANK का चेंक दिया था जो बाउंस हो गया.

पैसे नहीं थे

    राजपाल के पास तब उतने पैसे नहीं थे, जिसकी वजह से उन्हें दिल्ली हाईकोर्ट में पेश होना पड़ा.

जेल की सजा

    नतीजन दिल्ली हाईकोर्ट ने साल 2018 में राजपाल यादव को 3 महीने तक जेल की सजा सुनाई.

10 दिनों तक जेल

    इसके अलावा एक झूठे हलफनामे केस में भी राजपाल को साल 2013 में 10 दिनों तक जेल में रहना पड़ा था.

कैरेक्टर सर्टिफिकेट

    बता दें कि तिहाड़ जेल में राजपाल यादव ने थिएटर वर्कशॉप में काम किया था. उन्हें वहां से कैरेक्टर सर्टिफिकेट भी मिला.

More Stories