पूजा पाठ में गरुण घंटी का विशेष महत्व, बजाने से पूरी होंगी सभी मनोकामनाएँ


Suraj Tiwari
2023/11/15 16:25:09 IST

    घंटी बजाने के धार्मिक कारण होने के साथ-साथ इसका हमारे जीवन में साइंटिफिक असर भी पड़ता है.

    घंटी बजाने से वातावरण में कंपन्न पैदा होता है,जिसके कारण घंटी की आवाज से हानिकारक विषाणु, जीवाणु और सूक्ष्म कण नष्ट हो जाते हैं.

    घंटी बजाने से आसपास का वातावरण शुद्ध होता है. जिससे नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है.

    मंदिर की घंटी की आवाज मन में शांति और पवित्रता का भाव उतपन्न का भाव उत्पन्न करती हैं.

    धार्मिक मान्याता के अनुसार मंदिर में घंटी बजाने से देवी-देवताओं की मूर्ति जागृत होती है. जिससे भगवान आपकी सभी मनोकामनाओं को सुनते हैं.

    कहा जाता है कि भगवान कई बार मंदिर में सुप्तवास्था में होते हैं. ऐसे में उन्हें उठाकर पूजा करनी चाहिए.

    मान्यता है कि देवताओं को प्रसन्न करने के लिए घंटी बजाई जाती है. शंख और घंटे की आवाज देवताओं को बहुत पसंद होती है.

    मान्यता है कि सृष्टि की जब शुरुआत हुई थी तब भी नाद की आवाज गूंजी थीं. वहीं आवाज घंटी बजाने पर गूंजती है.

    कहा जाता है कि जब प्रलय आएगा तब भी नाद गूंजेगी. मंदिर के बाहर लगी घंटी को काल चक्कर का रूप माना जाता है.

More Stories