menu-icon
India Daily
share--v1

Madhya Pradesh: पेशाब कांड का फर्जी वीडियो डाल तिरंगे का किया अपमान, पुलिस ने आरोपी को पकड़ा

नई दिल्ली: मध्य-प्रदेश के सीधी जिले से आदिवासी व्यक्ति पर पेशाब करने के एक वीडियो ने देश को झकझोर कर रख दिया था जिसके बाद सीएम शिवराज सिंह चौहान ने खुद पीड़ित व्यक्ति से मिलकर उसके पैर धोए और माफी मांगी.

auth-image
Vineet Kumar
Madhya Pradesh: पेशाब कांड का फर्जी वीडियो डाल तिरंगे का किया अपमान, पुलिस ने आरोपी को पकड़ा

नई दिल्ली: मध्य-प्रदेश के सीधी जिले से आदिवासी व्यक्ति पर पेशाब करने के एक वीडियो ने देश को झकझोर कर रख दिया था जिसके बाद सीएम शिवराज सिंह चौहान ने न सिर्फ आरोपी व्यक्ति पर कार्रवाई करने का आदेश दिया बल्कि खुद पीड़ित व्यक्ति से मिलकर उसके पैर धोए और माफी मांगी.

पेशाब कांड की तस्वीरों का इस्तेमाल कर शेयर की गई फर्जी तस्वीरें

इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर बहुत तेजी से वायरल हुआ था जिसके चलते लोगों ने आरोपी प्रवेश शुक्ला के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की भी मांग की थी. अभी यह घटना पूरी तरह से शांत भी नहीं हुई थी कि एक और मामला सामने आ गया जिसमें एक व्यक्ति ने इस घटना के वीडियो की कुछ तस्वीरों का इस्तेमाल तिरंगे का अपमान करने के लिए किया.

तिरंगे की बेइज्जती करने की कोशिश

पुलिस के अनुसार शफीक 2.0 नाम के ट्विटर हैंडल से कुछ तस्वीरें शेयर की गई जिसमें सीधी पेशाब कांड की तस्वीरों का फर्जी तरीके से इस्तेमाल कर तिरंगे की बेइज्जती की गई, इसको लेकर व्यक्ति के खिलाफ न सिर्फ एफआईआर दर्ज की गई बल्कि उसे पकड़ भी लिया गया गया है.

इन धारओं में हुआ केस दर्ज

भोपाल के कमला नगर इलाके के एसएचओ अनिल बाजपेयी के अनुसार शफीक 2.0 नाम से ट्विटर हैंडल चलाने वाले व्यक्ति के खिलाफ धारा 1531 (1), 465 और 469 के साथ ही आईटी एक्ट के सेक्शन 67 के तहत केस दर्ज कर लिया गया है. इसके अलावा राष्ट्रीय धरोहर की बेइज्जती करने का मामला भी दर्ज किया गया है. 

आपको बता दें कि मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को दशमत रावत के साथ सीएम आवास पर मुलाकात की और उनके पैर धोकर माफी मांगने के बाद उनके साथ लंच भी किया.

इसे भी पढ़ें- सिर्फ 15 दिन में काले होने लगेंगे आपके सफेद बाल, हफ्ते में सिर्फ 3 दिन लगाने से दिखेगा असर