menu-icon
India Daily
share--v1

'हम दो हमारे 70, सबके हाथ में ईंट पत्थर वालों को ही चाहिए रोजगार...', ऐसा क्यों बोल गए सूर्या मैथिल

auth-image
India Daily Live

Political Analyst Surya Maithil: 2024 लोकसभा चुनाव कई मायनों में ऐतिहासिक हुआ है. इस चुनाव में कई राजनीतिक मुद्दे उठे, जिनको लेकर सूर्या मैथिल ने अपने विचार रखे. उन्होंने कहा कि जो राम को लाए हैं, देश उनको ला रहा है. देश की जनता भारत को विकसित बनाने के लिए मतदान कर रही है. बिहार के जंगलराज के खिलाफ भी जनता मतदान कर रही है. उन्होंने कहा कि अगर देश में मोदी सरकार नहीं होती तो कोर्ट के आदेश के बाद भी राम मंदिर नहीं बन पाता. यह संभव हो पाया, क्योंकि डबल इंजन की सरकार थी.

रोजगार को लेकर सूर्या मैथिल ने हमला बोलते हुए कहा कि रोजगार की बात करें तो 'जो 40 बच्चे पैदा करते हैं. उनका नारा है, हम दो हमारे 70 और सबके हाथ में ईंट-पत्थर, ये सभी लोग ही रोजगार-रोजगार चिल्ला रहे हैं'. ईपीएफओ का आंकड़ा निकाल के देख लें, देश के अंदर 4 लाख न्यू अकाउंट ओपन हुए हैं. 2004 से 2014 में यह स्थिति थी कि हर छोटे-छोटे काम के लिए हम विदेशी कंपनियों पर निर्भर रहते थे. मोदी सरकार ने यहां पर कारखाने लगवाए. यहां पर कई यूनिकॉर्न बन चुके हैं.हम दुनिया की 5वीं अर्थव्यवस्था बन गए हैं. 

सूर्या मैथिल ने कहा कि कांग्रेस का न्याय पत्र नहीं अन्याय पत्र है. प्रधानमंत्री की किसी भी योजना में सिर्फ खास वर्ग लाभ नहीं दिया गया. यह लाभ सभी को दिया गया है. भाजपा ने सभी का विकास किया. चाहे वो हिंदू है या मु्स्लिम हो.