share--v1

इस देश ने जीता "कूड़ा वर्ल्ड कप", जानें कैसा खेल है ये

Garbage World Cup: इस विश्व कप का नाम था कूड़ा विश्व कप. दरअसल, हमने जो लिखा है वो उसका हिंदी अनुवाद है. आइए इसके बारे में और जानते हैं. 

auth-image
Gyanendra Tiwari
फॉलो करें:

हाइलाइट्स

  • जापान में हुआ कूड़ा विश्व का आयोजन
  • 21 देशों की टीमों ने लिया भाग

Garbage World Cup : आपने कई खेलों के बारे में सुना होगा. हर गेम में विश्व कप होता है. जैसे क्रिकेट वर्ल्ड कप, हॉकी वर्ल्ड कप और फुटबॉल वर्ल्ड कप. लेकिन दुनिया में एक ऐसा अजीब खेल है जो पृथ्वी की गंदगी को साफ करने के लिए खेला जाता है. इस खेल का हाल ही में विश्व कप हुआ. इस विश्व कप का नाम था कूड़ा विश्व कप. दरअसल, हमने जो लिखा है वो उसका हिंदी अनुवाद है. आइए इसके बारे में और जानते हैं. 


किसने शुरू किया कूड़ा वर्ल्ड कप?

कूड़ा वर्ल्ड कप को जापान ने शुरू किया था. इस विश्व कप का मकसद पृथ्वी से गंदगी को साफ करना है. कूड़ा वर्ल्ड कप का मूल जापानी नाम स्पोगोमी वर्ल्ड कप है. इसका अर्थ होता है कूड़ा एकत्रित करना. वातावरण को साफ-सुथरा बनाने के लिए इस खेल की शुरुआत की गई थी. जलवायु परिवर्तन को लेकर दुनिया में कई तरह की संस्थाएं काम कर रही है. इस विश्व कप के जरिए भी दुनिया को साफ करने का प्रयास किया जा रहा है. 


ब्रिटेन ने मारी बाजी?

स्पोगोमी वर्ल्ड कप यानी कूड़ा विश्व कप में इस बार 21 देशों ने भाग लिया था. पूरे टूर्नामेंट में 21 टीमों ने मिलकर 1208 पाउंड कचरा इकट्ठा किया था. टीम्स को कुछ शहर दिए गए थे वहां से उन्हें कूड़ा इकठ्ठा करना था. ब्रिटेन के खिलाड़ियों ने 20 मिनट में सबसे ज्यादा कचरा इकठ्ठा करके विश्व कप की ट्रॉफी जीत ली. इस खेल का आयोजन आयोजन निप्पॉन फाउंडेशन नाम की संस्था ने किया था. 

अब इस खेल का आयोजन 2025 में किया जाएगा. इस तरह के खेल से समाज में जागरूकता पैदा करने की भी कोशिश की जा रही है ताकि लोग वातावरण को साफ सुथरा रख सकें.  
 

Also Read

First Published : 04 December 2023, 01:46 PM IST