menu-icon
India Daily
share--v1

Halal Holiday: हलाल हॉलीडे की मांग कर रही हैं मुस्लिम देश की लड़कियां, जानें आखिर ये होता क्या है?

Girls of Muslim countries are demanding Halal holiday: इस्लाम धर्म से ताल्लुक रखने वाली महिलाएं हलाल हॉलीडे पसंद कर रही हैं. कई इस्लामिक देशों में तेजी के साथ इसकी मांग उठ रही है.

auth-image
Gyanendra Tiwari
Halal Holiday: हलाल हॉलीडे की मांग कर रही हैं मुस्लिम देश की लड़कियां, जानें आखिर ये होता क्या है?

What is Halal Holiday: 'हलाल हॉलीडे' इस शब्द की चर्चा कई मुस्लिम देशों में हो रही है. खासकर महिलाएं इस शब्द को लेकर काफी एक्टिव है. ये शब्द छुट्टी के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है. इस्लाम धर्म से ताल्लुक रखने वाली महिलाएं हलाल हॉलीडे पसंद कर रही हैं. आम तौर पर देखा जाता है कि मुस्लिम महिलाएं  इस्लामिक नियमों का विरोध करती रहती हैं लेकिन यहां विरोध की बात नहीं बल्कि इस्लाम के नियमों को मानने की बात की जा रही है.

हलाल शब्द तो आपने सुना ही होगा. उसी से बना है हलाल हॉलीडे. वैसे आम तौर पर जब किसी जानवर को काटा जाता है तो हम कहते हैं कि जानवर को हलाल किया जा रहा है लेकिन यहां हलाल हॉलीडे का मतलब अलग है. यहां कोई हलाल नहीं होता बल्कि यहां आजादी मिलती है. आइए आपको बताते हैं कि आखिर ये होता क्या है? क्यों इसके लिए मुस्लिम देशों में आवाजें उठ रही हैं.

क्या है हलाल हॉलीडे? What is Halal Holiday?
हॉलीडे का अर्थ तो सबको पता है. उसी के आधार पर हलाल हॉलीडे बना है. इसका मतलब एक तरह की छुट्टी है, वो भी घूमने फिरने के लिए. यह एक तरह का टूरिज्म माना जा रहा है. हलाल हॉलिडे में मुस्लिम अपने इस्लामिक नियमों के दायरे में रहकर, नियम व कानून का पालन करते हुए घूम सकता है. टूर पर जा सकता है.

कई मुस्लिम देशों में महिलाओं को लेकर बड़े कठोर कानून बनाए गए हैं. उन्हें घूमने फिरने की पुरुषों जैसी आजादी नहीं दी जाती है. इसलिए मुस्लिम देशों की युवतियां हलाल हॉलिडे की मांग कर रही हैं. हलाल हॉलीडे में मुस्लिम अपने धार्मिक मूल्यों से समझौता किए बगैर कुछ दिन छुट्टी के तौर पर घूम सकता है.

बिजनेस भी हो रहा
इस हॉलिडे को लेकर बिजनेस भी शुरू हो गए हैं. कई होटल या वेकेशन डेस्टिनेशन भी खुल गए है. इन होटलों में मुस्लिमों को एडवेंचर, एंटरटेनमेंट देने के लिहाज से होटल मालिक इस्लामिक नियमों का भी ध्यान में रख रहे हैं.

अगर हम होटल वाली बात को उदाहरण से समझे तो जब भी कोई मुस्लिम लड़की कहीं घूमने जाती है तो उसे कई प्रकार की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है. वो ऐसी होटलों की तलाश करती हैं जहां शराब न मिलती हो और उनके इस्लामिक मूल्यों का ध्यान रखा जाता है. इसी को ध्यान में रखते हुए होटल वाले हलाल हॉलिडे के कांस्पेट के तहत नया बिजनेस खोल रहे हैं, जहां वो सभी चीजों का ध्यान रख रहे हैं.

होटल में हलाल हॉलिडे
अगर हलाल हॉलिडे के तहत कोई महिला कई घूमने गई है और वह किसी होटल में रुकी है. महिला का मन स्वीमिंग पूल में नहाने का कर रहा है तो हलाल हॉलिडे के लिए स्पेशली बने होटल में उसे किसी भी तरह का संकोच नहीं करना पड़ेगा क्योंकि उसके आस-पास उसी ड्रेस में लोग स्वीमिंग पूल में नहा रहे होंगे. वहां नमाज के लिए भी स्पेस उपलब्ध रहता है. ऐसे में छुट्टी के वक्त इस्लामिक नियमों से समझौता नहीं करना पड़ता.

220 बिलियन डॉलर हलाल हॉलिडे बिजनेस
ग्लोबल मुस्लिम ट्रैवल इंडेक्स की रिपोर्ट के अनुसार हलाल हॉलिडे बिजनेस  2022 में 220 बिलियन डॉलर का हो चुका है. आने वाले समय में इस व्यवसाय में और इजाफा देखने को मिल सकता है.

बीबीसी की एक रिपोर्ट के अनुसार एक मुस्लिम महिला का कहना था कि होटल में वो किसी को छोटे कपड़ों में नहीं देखना चाहती वो चाहती बच्चे इस्लामिक संस्कृति का पालन करें. 

यह भी पढ़ें- Mughal History: मुगल शासकों के हरम में थी हजारों औरते, जानिए कैसे तय होता था कि बादशाह के साथ बिस्तर पर कौन जाएगा?