share--v1

Tata Tech के IPO ने निवेशकों को कर दिया मालामाल, लिस्ट होते ही दे दिया रिकॉर्डतोड रिटर्न, मल्टीबैगर साबित हुआ आईपीओ

TATA Tech IPO listed in Share Market: 19 साल बाद टाटा समूह की किसी कंपनी ने शेयर मार्केट में एंट्री मारी है.बिडिंग के वक्त एक शेयर की वैल्यू 475 से 500 रुपए तक थी. गुरुवार को लिस्ट होते ही टाटा टेक ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए.

auth-image
Gyanendra Tiwari
फॉलो करें:

हाइलाइट्स

  • शेयर मार्केट में लिस्ट हुई टाटा टेक
  • लिस्ट होते ही निवेशकों को कर दिया मालामाल

TATA Tech IPO listed in Share Market: शेयर बाजार में टाटा टेक के आईपीओ की लिस्टिंग हो गई है. 19 साल बाद टाटा समूह की किसी कंपनी ने शेयर मार्केट में एंट्री मारी है. ऐसे में स्वागत तो जबरदस्त होना ही था. 22 नवंबर से 24 नवंबर के बीच आईपीओ के लिए बिडिंग की गई थी. बिडिंग के वक्त एक शेयर की वैल्यू 475 से 500 रुपए तक थी. गुरुवार को लिस्ट होते ही टाटा टेक ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए. शेयर मार्केट के विशेषज्ञों ने जो अनुमान लगाया था उससे कई गुना ज्यादा में टाटा टेक्नोलॉजी का आईपीओ लिस्ट हुआ है. 


कितने में लिस्ट हुआ टाटा टेक का आईपीओ?

टाट टेक के आईपीओ का प्राइस बैंड 475 से लेकर 500 रुपए तक था. ऐसा अनुमान लगाया जा रहा था कि यह 800 से 900 के बीच शेयर मार्केट में लिस्ट होगा. लेकिन टाटा टेक ने सभी अनुमानित रिकॉर्ड तोड़ते हुए लिस्टिंग में एक नया रिकॉर्ड बना दिया. टाटा टेक की लिस्टिंग 1200 रुपए से हुई. यानी लिस्ट होते ही इसने निवेशकों को मालामाल कर दिया. एक तरह से यह स्टॉक आईपीओ होल्डर्स के लिए मल्टीबैगर साबित हुआ. 

निवेशकों को हुआ मोटा मुनाफा

टाटा टेक्नोलॉडी दोनो एक्सचेंज मार्केट बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) में लिस्ट हुआ. बीएसई में टाटा टेक 1190.95 में लिस्ट हुआ. वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज में टाटा टेक का आईपीओ 1200 रुपए में लिस्ट हुआ. अपर प्राइस बैंड की तुलना में टाटा टेक का शेयर  700 रुपए अधिक पर लिस्ट हुआ. 

लंबे समय से निवेशक टाट टेक के आईपीओ का इंतजार कर रहे थे. 22 नवंबर से 24 नवंबर के बीच इसका आईपीओ ओपन हुआ था. आईपीओ को रिकार्ड 70 गुना बोली लगी थी. 

मिले थे रिकॉर्ड तोड़ आवेदन

टाटा टेक के आईपीओ पर निवेशक जमकर टूटे. आईपीओ को सब्सक्राइब करने के लिए निवेशक इतने उत्साहित थे कि एक घंटे के अंदर ही टाटा टेक का आईपीओ फुली सब्सक्राइब्ड हो गया. इसके लिए 73.6 लाख आवेदन मिले थे. भारत में किसी भी आईपीओ के लिए यह रिकॉर्ड आवेदन थे. 
 

Also Read

First Published : 01 December 2023, 08:15 AM IST