share--v1

इस तारीख के बाद बंद हो जाएंगे कई लोगों के 'सुकन्या समृद्धि योजना' के अकाउंट, जानें क्यों?

देश में चलाई जा रही तमाम सरकारी योजनाओं में से सुकन्या समृद्धि योजना में सबसे अधिक ब्याज मिल रहा है. वित्त वर्ष 2023-24 के लिए ब्याद दर को और बढ़ाया गया है.

auth-image
Sagar Bhardwaj
फॉलो करें:

बच्चियों के भविष्य को सुरक्षित बनाने के लिए केंद्र सरकार ने सुकन्या समृद्धि योजना की शुरुआत की थी. इस योजना के तहत निवेश की गई राशि पर सालाना 8.2 प्रतिशत का ब्याज मिलता है. योजना में लगातार निवेश करते रहने से एक बड़ी रकम इकट्ठा हो सकती है, जिससे अभिभावकों पर बच्ची की शादी और उसकी पढ़ाई के खर्च का कोई दबाव नहीं रहता.

लेकिन 31 मार्च के बाद कई लोगों के सुकन्या सृमद्धि अकाउंट बंद हो सकते हैं.  दरअसल, सुकन्या समृद्धि अकाउंट को एक्टिव रखने के लिए खाते में मिनिमम बैलेंस रखना जरूरी है. अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो आपका अकाउंट फ्रीज हो जाएगा और इसे दोबारा एक्टिव करने के लिए पेनल्टी लगेगी.

न्यूनतम 250 रुपए जमा करना जरूरी

सुकन्या समृद्धि अकाउंट को एक्टिव रखने के लिए प्रत्येक वित्त वर्ष में आपको इसमें न्यूनतम 250 रुपए जमा करना जरूरी है. ऐसे में अगर आपने 31 मार्च 2024 तक मिनिमम अमाउंट जमा नहीं कराया तो आपका अकाउंट फ्रीज कर दिया जाएगा और फिर इसे दोबारा शुरू करने के लिए 50 रुपए प्रति वर्ष के हिसाब से जुर्माना देना होगा.

सुकन्या समृद्धि योजना के बारे में...

  • अकाउंट खोलने की तारीख से 15 साल तक आप इस योजना में निवेश कर सकते हैं.
  • योजना के तहत जमा किए गए पैसे पर प्रति वर्ष 8.2% का ब्याज मिलता है. हालांकि पहले ब्याज कम था लेकिन वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए इसकी ब्याज दर को बढ़ाया गया है.
  • बच्ची के 21 साल का होने या 18 साल की आयु के बाद उसकी शादी के समय इस पैसे को निकाला जा सकता है.
  • योजना के तहत आपको प्रत्येक वर्ष न्यूनतम 250 रुपए जमा करने होंगे.
  • साल भर में आप इसमें अधिकतम 1.5 लाख रुपए का निवेश कर सकते हैं.
  •  इस योजना में जमा किए गए पैसे पर चक्रवृद्धि ब्याज मिलता है.

योग्यता
योजना के तहत खाता खुलवाने के लिए बच्ची की उम्र 10 साल से कम होनी चाहिए. 10 साल से कम उम्र की कन्या के माता पिता या कानूनी अभिभावक कन्या के नाम पर  SSY अकाउंट खोलने के योग्य हैं.

 

Also Read

First Published : 07 February 2024, 12:44 PM IST