menu-icon
India Daily
share--v1

EPFO Update: आर्थिक विकास ने देश में बढ़ाया रोजगार, जानें क्या कहता है EPFO का डाटा

EPFO First-Time Workers Job Data: देश की आर्थिक विकास में हुए बढ़त में रोजगार का अहम योगदान देखने को मिला है. सरकारी रिपोर्ट के अनुसार करीब 10 लाख से भी ज्यादा लोग हर महीने संगठित क्षेत्रों में रोजगार के लिए जुड़ रहे हैं.

auth-image
Purushottam Kumar
EPFO Update: आर्थिक विकास ने देश में बढ़ाया रोजगार, जानें क्या कहता है EPFO का डाटा

EPFO First-Time Workers Job Data: देश की आर्थिक विकास में हुए बढ़त में रोजगार का अहम योगदान देखने को मिला है. सरकारी रिपोर्ट के अनुसार करीब 10 लाख से भी ज्यादा लोग हर महीने संगठित क्षेत्रों में रोजगार के लिए जुड़ रहे हैं. इन लोगों में ज्यादातर ऐसे लोग शामिल हैं जो पहली बार नौकरी कर रहे हैं, इस लोगों में सबसे ज्यादा 18-25 साल के युवा वर्ग शामिल हैं. 

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन यानी ईपीएफओ की एक रिपोर्ट के अनुसार जून 2023 तक काफी संख्या में लोग ईपीएफओ से जुड़े हैं. ईपीएफओ से जुड़े 17.89 लाख लोग में से 10.14 लाख लोग ऐसे थे जो पहली बार ईपीएफओ से जुड़े थे. जून के बाद अगर हम जुलाई के आंकड़े की बात करें तो इस दौरान करीब 18.5 लाख लोग ईपीएफओ से जुड़े थे जिसमें से 10.30 लाख लोग ऐसे थे जो पहली बार ईपीएफओ से जुड़े थे.

देश की अर्थव्यवस्था में बढ़ोतरी

भारत में फिलहाल मैन्युफैक्चरिंग और सर्विसेज दोनों सेक्टर में तेजी से बढ़ोतरी देखने को मिल रही है. यही वजह है इस वित्त वर्ष की पहली तिमाही को दौरान देश की अर्थव्यवस्था में 7.8 फीसदी की बढ़ोतरी से भारत दुनिया में सबसे तेज गति से विकास करने वाला देश बना हुआ है. 

ये भी पढ़ें: माइग्रेंट वर्कर्स को रेलवे का बड़ा तोहफा, कई राज्यों के लिए स्पेशल ट्रेन का किया जाएगा संचालन, एक क्लिक में जानें सबकुछ

सरकार की ओर से जारी किए गए एक आंकड़ों के अनुसार अप्रैल से जुलाई के बीच आठ प्रमुख उद्योग में पिछले साल की समान अवधि की तुलना में 6.4 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. वहीं. औद्योगिक उत्पादन की अगर हम बात करें तो यहां 4.8 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई है. इसके अलावा अगर हम सर्विस सेक्टर के पीएमआइ की बात करें तो उसमें भी पिछले साल के मुकाबले 5.3 फीसदी अधिक है.

एनपीएस से जुड़े 31 लाख लोग 

इकोरैप की एक रिपोर्ट के अनुसार देश में पिछले चार साल से नौकरियों में भी लगातार बढ़ोतरी देखने को मिल रही है. इस रिपोर्ट के अनुसार वित्त वर्ष 2020 से लेकर 2023 के बीच 4.86 करोड़ नए कामगार भविष्य निधि संगठन से जुड़े हैं. इस दौरान 31 लाख नए लोग नेशनल पेंशन स्कीम से भी जुड़े हैं. एनपीएस व ईपीएफओ की आंकड़ों को अगर हम जोड़ दें तो इस दौरान कुल 5.2 करोड़ लोगों को नौकरियां मिली हैं.

ये भी पढ़ें: Apki Beti Hamari Beti: घर में हुआ लक्ष्मी का आगमन तो सरकार करेगी मदद, एक क्लिक में जानें क्या है पूरी Scheme