menu-icon
India Daily
share--v1

मॉर्निंग वॉक के दौरान कंपनी के सीईओ को आया हार्ट अटैक, स्मार्टवॉच ने बचा ली जान

तकनीक का अगर सही इस्तेमाल किया जाए तो वह कैसे एक वरदान साबित हो सकती है, यह घटना इसकी बानगी है.

auth-image
Gyanendra Sharma
मॉर्निंग वॉक के दौरान कंपनी के सीईओ को आया हार्ट अटैक, स्मार्टवॉच ने बचा ली जान

तकनीक का अगर सही इस्तेमाल किया जाए तो वह कैसे एक वरदान साबित हो सकती है, यह घटना इसकी बानगी है. ब्रिटेन की एक कंपनी में सीईओ के पद पर तैनात 42 वर्षीय पॉल वफाम हर रोज की तरह सुबह रनिंग के घर से बाहर निकले हुए थे. तभी उन्हें हार्ट अटैक आ गया. अगर उन्होंने अपनी स्मार्टवॉच नहीं पहनी होती तो शायद आज वह इस दुनिया में न होते.

मॉर्निंग वॉक के दौरान आया हार्ट अटैक, स्मार्टवॉच ने बचा ली जान

अपनी फिटनेस को लेकर काफी सजग रहने वाले हॉकी वेल्स कंपनी के सीईओ पॉल को दौड़ लगाने के दौरान अचानक से हार्ट अटैक आ गया. हार्ट अटैक आने पर उनके सीने में तेज दर्द हुआ और वह तुरंत सड़क पर गिर पड़े.

हालांकि पॉल वफाम इस दौरान किसी तरह अपनी स्मार्टवॉच से अपनी पत्नी को फोन करने में सफल रहे. सूचना पाकर पॉल की पत्नी लौरा तुंरत स्पॉट पर पहुंची और पॉल को अस्पताल में भर्ती कराया.

एक धमनी पूरी तरह हो चुकी थी ब्लॉक

वफाम को उनकी एक धमनी में पूरी तरह से ब्लॉकेज के कारण हार्ट अटैक आया था. डॉक्टरों ने तुरंत वफाम का इलाज शुरू किया और उनके ब्लॉकेज को खोलकर दिल तक खून के प्रवाह को पहुंचाने में कामयाब रहे. इसके अलावा  भविष्य में उनकी धमनी को खुला रखने के लिए उनके दिल में एक स्टैंट भी लगाया गया.

अस्पताल के कोरोनरी यूनिट में 6 दिन तक बिताने के बाद वफाम को आखिरकार अस्पताल से छुट्टी दे दी गई. अब वफाम की घर पर ही देखभाल चल रही है.

पॉल ने स्टाफ और पत्नी को दिया धन्यवाद

अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद वफाम ने कहा कि मुझे अस्पताल में बहुत अच्छा ट्रीटमेंट मिला. उन्होंने अस्पताल के कर्मचारियों की इस देखभाल के लिए जमकर तारीफ की और उन्हें धन्यवाद दिया. इसके साथ-साथ उन्होंने अपनी पत्नी का भी धन्यवाद दिया. पॉल वफाम ने कहा कि यह मेरी पत्नी के लिए किसी सदमे से कम नहीं था.

यह भी पढ़ें: लॉकडाउन में बुक कराई फ्लाइट टिकट के रिफंड का इंतजार खत्म, इस तारीख से वापस मिलेगा पैसा