menu-icon
India Daily
share--v1

Archery World Cup: भारतीय तीरंदाज प्रथमेश जावकर ने विश्व कप में जीता रजत पदक

भारतीय तीरंदाज प्रथमेश जावकर ने विश्व कप फाइनल में रजत पदत जीता है. जावकर शूट-ऑफ फिनिश में डेनमार्क के माथियास फुलर्टन से मामूली अंतर से हार गए.

auth-image
Gyanendra Sharma
Archery World Cup: भारतीय तीरंदाज प्रथमेश जावकर ने विश्व कप में जीता रजत पदक

नई दिल्ली: भारतीय तीरंदाज प्रथमेश जावकर ने विश्व कप फाइनल में रजत पदत जीता है. जावकर शूट-ऑफ फिनिश में डेनमार्क के माथियास फुलर्टन से मामूली अंतर से हार गए. शंघाई विश्व कप विजेता जावकर, जिन्होंने दुनिया के नंबर 1 खिलाड़ी और मौजूदा चैंपियन माइक श्लोसेर को चार महीने में दूसरी बार हराकर फाइनल में प्रवेश किया. वे फुलर्टन से 148-148 (10-10*) से हार गए.

शनिवार देर रात फाइनल मुकाबले के शुरुआती दौर में 20 वर्षीय भारतीय खिलाड़ी के एक अंक गिरने के बाद डेनमार्क के तीरंदाज ने शुरुआती बढ़त ले ली. बीच में 89-90 से पीछे चल रहे जावकर ने फाइनल को बराबरी पर ला दिया, जब उन्होंने संभावित 30 में से 30 अंक हासिल कर अंतिम दौर में कुल 119 अंक बनाए. लेकिन निर्धारित अंतिम छोर पर दोनों तीरंदाजों ने 29-29 का समान स्कोर बनाकर इसे शूटऑफ तक पहुंचाया.

टाईब्रेकर में भी टक्कर देखने को मिला क्योंकि भारतीय फुलर्टन के तीर को मामूली अंतर से चूक गए. सेमीफाइनल में महाराष्ट्र के तीरंदाज ने संभावित 150 अंकों में से 150 का शानदार प्रदर्शन करते हुए श्लोएसर को एक अंक (150-149) से पछाड़ दिया. इस जीत ने डचमैन को विश्व कप फाइनल खिताब की हैट्रिक से भी वंचित कर दिया.