menu-icon
India Daily
share--v1

Asian Games 2023: चीन की 'शर्मनाक' करतूत पर बिफरे शशि थरूर, एशियन गेम्स में भी नहीं सुधरा मेजबान, 3 भारतीय खिलाड़ियों को नहीं दिया वीजा

Asian Games 2023: भारतीय दल जहां एक और एशियन गेम्स 2023 में चीन में कंपीट कर रहा है तो वहीं मेजबान चीन भारत के खिलाफ अपने दकियानूसी नजरिए से पीछे हटता नहीं नजर आ रहा है. इसी मसले पर शशि थरूर ने चीन को फटकार लगाई है. जानिए क्या है ये पूरा मामला.

auth-image
Antriksh Singh
Asian Games 2023: चीन की 'शर्मनाक' करतूत पर बिफरे शशि थरूर, एशियन गेम्स में भी नहीं सुधरा मेजबान, 3 भारतीय खिलाड़ियों को नहीं दिया वीजा

Asian Games 2023: चीन सरकार ने भारतीय खेल मंत्रालय को अरुणाचल प्रदेश के तीन वुशू खिलाड़ियों को एशियाई खेलों में भाग लेने के लिए वीजा देने से मना कर दिया है. इस घटना पर कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने चीन की निंदा की है और कहा है कि यह घटना शर्मनाक है.

चीन का दकियानूसी राग

थरूर ने कहा कि चीन ने अरुणाचल प्रदेश के होने की वजह से इन खिलाड़ियों को वीजा नहीं दिया. उन्होंने चीन से माफी मांगने और इन खिलाड़ियों को वीजा देने की मांग की है. उन्होंने कहा कि अगर चीन ने ऐसा नहीं किया तो भारत को चीन में होने वाले किसी भी अंतरराष्ट्रीय खेल आयोजन की मेजबानी का अधिकार नहीं देना चाहिए.

शशि थरूर ने लगाई अरुणाचल प्रदेश के मुद्दे पर चीन को फटकार

थरूर ने कहा कि, भारत एशियाई खेलों में पदक जीत रहा है, लेकिन यह मत भूलिए कि चीन ने तीन भारतीय खिलाड़ियों को अपने देश में प्रवेश करने से इनकार कर दिया क्योंकि वे अरुणाचल प्रदेश में पैदा हुए थे.

थरूर ने कहा कि चीन का आचरण शर्मनाक है और जब खेल खत्म हो जाएंगे, तो भारत को आधिकारिक रूप से विरोध करना चाहिए और मांग करनी चाहिए कि देश को किसी भी भविष्य के अंतरराष्ट्रीय खेल आयोजन की मेजबानी का अधिकार तब तक नहीं दिया जाएगा जब तक कि वे प्रत्येक मान्यता प्राप्त एथलीट को प्रवेश और भाग लेने की अनुमति नहीं देते.

इन तीन खिलाड़ियों को नहीं दिया वीजा

अरुणाचल प्रदेश के तीन खिलाड़ी - निमन वांग्सू, ओनीलु तेगा और मेपुंग लाम्गू को Guali Cultural and Sports Centre में व्यक्तिगत मैचों में भाग लेना था. एथलीटों को मार्शल आर्ट खेल के व्यक्तिगत स्पर्धाओं में भाग लेना था.

ये भी पढ़ें- Asian Games 2023: भारत के लिए अभी किसने जीता है कौन सा पदक, जानिए एशियन गेम्स 2023 मेडल टेली में इंडिया है कौन से स्थान पर

 

भारत के नेताओं ने भी एक सुर में किया चीन का विरोथ

बता दें इस मामले को भेदभावपूर्ण बताते हुए, खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने विरोध के तौर पर चीन की अपनी यात्रा रद्द कर दी. उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि यह ओलंपिक चार्टर के खिलाफ जाता है. इसे भारत द्वारा "अस्वीकार्य" माना जाता है.

केंद्रीय मंत्री ने जोर देकर कहा कि अरुणाचल प्रदेश (जिस पर चीन अपना दावा करता है) भारत का अभिन्न अंग है.

ठाकुर ने इस महीने की शुरुआत में संवाददाताओं से कहा, "यह भारत के लिए स्वीकार्य नहीं है और मैंने इस आधार पर चीन की अपनी यात्रा रद्द कर दी है कि उन्होंने अरुणाचल प्रदेश के खिलाड़ियों को एशियाई खेलों का हिस्सा बनने का अवसर देने से इनकार कर दिया है. अरुणाचल प्रदेश भारत का अभिन्न अंग है."

इस मामले पर चीन की निंदा केंद्रीय मंत्री किरन रिजिजू ने भी की है. भारतीय खेल प्राधिकरण (एसएआई) भी इन खिलाड़ियों के सपोर्ट में हैं.