menu-icon
India Daily
share--v1

जल्द ही लॉन्च होने वाला है भारत का सबसे बड़ा स्पेश मिशन, जानें 'मिशन गगनयान' पर कितना होगा खर्च?

Human Mission Gaganyaan: 'चंद्रयान 3' के बाद देश अब 'मिशन गगनयान' की सफलता के इंतजार में है. इसके साल 2024 में लॉन्च होने की उम्मीद है.

Srishti Srivastava
Courtesy: gaganyaan

'मिशन चंद्रयान 3' की सफलता के कुछ महीनों बाद भारत का सबसे बड़ा और मंहगा मिशन लॉन्च होने की तैयारी में है. ISRO के इस पहले मानव मिशन को मिशन 'गगनयान' का नाम दिया गया है.

'मिशन चंद्रयान 3' की सफलता के कुछ महीनों बाद भारत का सबसे बड़ा और मंहगा मिशन लॉन्च होने की तैयारी में है. ISRO के इस पहले मानव मिशन को मिशन 'गगनयान' का नाम दिया गया है.

Courtesy: gaganyaan

स्पेश मिशन 'गगनयान' के लिए रोबोट्स तैयार किए जा रहे हैं, जिसके बाद एस्ट्रोनॉट्स को अंतरिक्ष में भेजा जाएगा.

स्पेश मिशन 'गगनयान' के लिए रोबोट्स तैयार किए जा रहे हैं, जिसके बाद एस्ट्रोनॉट्स को अंतरिक्ष में भेजा जाएगा.

Courtesy: gaganyaan

वहीं इसके परिक्षण उड़ान में एक ह्यूमनॉयड भी होगा. इस रोबोट का नाम व्योम मित्र रखा गया है. व्योम मित्र की तस्वीर भी इसको की तरफ से जारी की जा चुकी है.

वहीं इसके परिक्षण उड़ान में एक ह्यूमनॉयड भी होगा. इस रोबोट का नाम व्योम मित्र रखा गया है. व्योम मित्र की तस्वीर भी इसको की तरफ से जारी की जा चुकी है.

Courtesy: gaganyaan

बता दें कि भारतीय वायुसेना के चार लड़ाकू पायलट इस मिशन का एक अहम हिस्सा होंगे. इन्हें रूस में ट्रेनिंग दी जा रही है.

बता दें कि भारतीय वायुसेना के चार लड़ाकू पायलट इस मिशन का एक अहम हिस्सा होंगे. इन्हें रूस में ट्रेनिंग दी जा रही है.

Courtesy: gaganyaan

मिशन 'गगनयान' के तहत पहले मानवरहित सेटेलाइट और ह्यूमनॉयड को अंतरिक्ष में भेजकर इसका जायजा लिया जाएगा, इसके बाद मानव को अंतरिक्ष में भेजा जाएगा.

मिशन 'गगनयान' के तहत पहले मानवरहित सेटेलाइट और ह्यूमनॉयड को अंतरिक्ष में भेजकर इसका जायजा लिया जाएगा, इसके बाद मानव को अंतरिक्ष में भेजा जाएगा.

Courtesy: gaganyaan

रिपोर्ट्स के अनुसार, मिशन 'गगनयान' की शुरुआत अगले साल हो सकती है. वहीं इस मिशन पर 10 हजार करोड़ खर्च किया जाएगा.

रिपोर्ट्स के अनुसार, मिशन 'गगनयान' की शुरुआत अगले साल हो सकती है. वहीं इस मिशन पर 10 हजार करोड़ खर्च किया जाएगा.