menu-icon
India Daily
share--v1

सिर्फ यौन शक्ति बढ़ाने के लिए ही नहीं है शिलाजीत, इन कामों के लिए भी होता है बेहद फायदेमंद

Benefits of Shilajeet: खुले समाज में लोग इसका नाम भी नहीं लेते हैं. कहा जाता है कि यह हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करता है और यौन क्रिया को बढ़ाता है.

auth-image
Gyanendra Tiwari
सिर्फ यौन शक्ति बढ़ाने के लिए ही नहीं है शिलाजीत, इन कामों के लिए भी होता है बेहद फायदेमंद

 नई दिल्ली. शिलाजीत. नाम तो सुना ही होगा. भारतीय मार्केट में इसका नाम संभोग से जोड़कर ही लिया जाता है. इसे लेकर एक गलत धारणा भी बना ली गई है. खुले समाज में लोग इसका नाम भी नहीं लेते हैं. कहा जाता है कि यह हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करता है और यौन क्रिया को बढ़ाता है. ये कहां पाया जाता है इसे लेकर भी कई प्रकार का भ्रम फैला हुआ है. आइए इस औषधीय गुण के बारे में जानते हैं.

आपको बता दें कि बाजार में इस पदार्थ (शिलाजीत) को सेक्स से जोड़कर बेचा जा रहा है. इसे लेकर एक्सपर्ट्स का मानना है कि जो भी शिलाजीत का नियमित सेवन करता है उसके पास बीमारियां नहीं भटकती.

शिलाजीत आखिर होता क्या है? (What is Shilajit?)
आगे बढ़ें उससे पहले ये जानना बहुत जरूरी है कि आखिर शिलाजीत होता क्या है? यह काले रंग का दिखने वाला एक ठोस चिपचिपा पदार्थ होता है. इस पदार्थ को लेकर कई तरह की बातें कही जाती है. ये पदार्थ मानव शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करता है.

कहां पाया जाता है शिलाजीत? (Where is Shilajit found?)
शिलाजीत कहां पाया जाता है? इसे लेकर भी कई तरह की खबरे सामने आती रही हैं. वहीं, अगर हम बीबीसी की एक रिपोर्ट की माने तो यह पदार्त मध्य एशिया के पहाड़ों में पाया जाता है. इसकी अधिक मात्रा पाकिस्तान के गिलगित-बाल्टिस्तान के पहाड़ों में पाई जाती है.

कैसे बनता है शिलाजीत?  (How is Shilajit made?)
शिलाजीत के बनने के पीछे को लेकर भी कई प्रकार की बाते प्रचलित हैं. कहा जाता है कि यह पहाड़ों के पसीने से बनता है. इसलिए शिलाजीत को पहाड़ों का पसीना कहा जाता है. वहीं अगर हम एक्सपर्ट्स की मानें तो यह पदार्थ पहाड़ों पर मौजूद धातुओं और पौधों के घटकों से मिलकर बनता है. एक निश्चित समय पर ही इसे निकाला जाता है. भारत के कुछ हिमालय क्षेत्रों में भी शिलाजीत पाया जाता है.

बाजार में बिक रहा नकली शिलाजीत?
इस पदार्थ की डिमांड बहुत ज्यादा है. इतनी मात्रा में ये पदार्थ प्राकृतिक रूप में उपलब्ध भी नहीं है. ऐसे में सवाल ये उठता है कि आखिर बाजार में जो शिलाजीत मिल रहा है क्या वह मिलावटी है? क्योंकि इतनी मात्रा में पहाड़ों से शिलाजीत नहीं निकाला जाता जितनी मात्रा में लोग बाजार से खरीदते हैं. इसलिए नकली शिलाजीत का सेवन करना शरीर के लिए हानिकारक साबित हो सकता है.

सिर्फ यौन शक्ति बढ़ाने के लिए ही नहीं होता इसका इस्तेमाल
आमतौर पर देखा जाता है कि इसका इस्तेमाल लोग संभोग के लिए ही करते हैं. इसी धारणा की वजह से आज लोग समाज में इस पदार्थ का नाम लेने से कतराते हैं. जबकि ऐसा है नहीं. शिलाजीत कई प्रकार की बीमारियों को ठीक करने में भी मददगार होता है.

शिलाजीत में कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं. जैसे- आयरन, जिंक, मैग्नीशियम समेत 85 से अधिक खनिज तत्व पाए जाते हैं. ये हमारे ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाते हैं, जिससे हमारी बॉडी स्वस्थ रहती है. कम टेस्टोस्टेरोन, भूलने की बीमारी (अल्जाइमर), क्रोनिक थकान सिंड्रोम, एनीमिया, पुरुष प्रजनन क्षमता में कमी, हार्ट, के लिए यह पदार्थ फायदेमंद साबित होता है. अल्जाइमर, डिप्रेशन, एंग्जाइटी,  वात, पित्त और कफ, डायबिटीज को नियंत्रित करने में यह मददगार साबित होता है. 

यह भी पढ़ें- गर्भावस्था में गुड़ खाने के फायदे जान, हैरान हो जाएंगी आप