menu-icon
India Daily
share--v1

International Tiger Day आज, जानें भारत में अभी कितनी है बाघों की संख्या; क्या आपने की है इन टाइगर रिजर्व्स की सैर

International Tiger Day: आज पूरा विश्व अंतर्राष्ट्रीय बाघ दिवस मना रहा है. बाघों की संख्या में हुई गिरावट को देखते हुए प्रत्येक वर्ष 29 जुलाई को इंटरनेशनल टाइगर डे मनाया जाता है, ताकी बाघों की संख्या में वृद्धि हो सके.

auth-image
Gyanendra Tiwari
International Tiger Day आज, जानें भारत में अभी कितनी है बाघों की संख्या; क्या आपने की है इन टाइगर रिजर्व्स की सैर

नई दिल्ली. International Tiger Day 2023:  आज पूरा विश्व अंतर्राष्ट्रीय बाघ दिवस मना रहा है. बाघों की संख्या में हुई गिरावट को देखते हुए प्रत्येक वर्ष 29 जुलाई को इंटरनेशनल टाइगर डे मनाया जाता है, ताकी बाघों की संख्या में वृद्धि हो सके. भारत में विश्व के 70 प्रतिशत बाघ पाए जाते हैं. टाइगर भारत का राष्ट्रीय जानवर भी है. दुनिया में सबसे ज्यादा बाघ भारत में ही पाए जाते हैं. प्रतिशत की बात करें तो विश्व के 70 प्रतिशत टाइगर इंडिया में ही पाए जाते हैं.

भारत में कितने बाघ है?
इनकी संख्या में बढ़ोतरी हो इसके लिए टाइगर रिजर्व के अंदर बाघों की देखभाल की जाती है. भारत में कई टाइगर रिजर्व हैं. भारत में कम होती बाघों की आबादी को देखते हुए 1973 में केन्द्र सरकार ने प्रोजेक्ट टाइगर शुरू किया था जब टाइगर प्रोजेक्ट शुरू किया गया था तब 9 से ज्यादा टाइगर रिजर्व थे. आज इनकी संख्या 53 हो चुकी है. बाघ अभयारण्यों की वजह से इनकी संख्या बढ़कर 3,167 तक हो गई है. वहीं 2006 में बाघों की संख्या मात्र 1411 थी. 17 सालों में इनकी संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है.

किस राज्य में कितने बाघ?
अगर हम टॉप 10 राज्यों की बात करें तो मध्य प्रदेश, कर्नाटक, उत्तराखंड, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, असम, केरल, राजस्थान, ओडिशा और छत्तीसगढ़ में सबसे ज्यादा टाइगर हैं.

मध्य प्रदेश  - 526
कर्नाटक -  524
उत्तराखंड   - 442
महाराष्ट्र  -  312
तमिलनाडु  -  264
असम  -  190
केरल   - 190
उत्तर प्रदेश  - 173
ओडिशा  -  28
राजस्थान  - 91
पश्चिम बंगाल   - 131 
अरुणाचल प्रदेश   - 29
आंध्र प्रदेश  -  48
बिहार  -  31
छत्तीसगढ  -  19
गोवा -   03
झारखंड  -  05

नोट-उपयुक्त डाटा बायजू के लेख पर आधारति है.

यह भी पढ़ें- उम्र बढ़ने से क्यों कमजोर हो जाती है हमारी याददाश्त, रिसर्च में पता चला कारण

बाघ दिवस पर इन टाइगर रिजर्व्स की कर सकते हैं सैर
बाघ दिवस के अवसर पर कई लोग अभ्यारण में जाकर इसे मनाते हैं. अगर आप आज घूमने का प्लान बना रहे हैं तो हम आपको भारत के टॉप टाइगर रिजर्व के बारे में बताएगा, जहां जाकर आप घूम सकते हैं.

  • काजीरंगा टाइगर रिजर्व (Kaziranga Tiger Reserve)
The Success Story of Kaziranga's Tigers – Unpacking the Dichotomy

यह रिजर्व असम में स्थिति है. यहां पर जाकर आप टाइगर डे मना सकते हैं. 2006 में इसे काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान से टाइगर रिजर्व घोषित किया गया था. बाघों के अलावा यहां हाथियों, जंगली भैंसों और भारतीय गैंडों जैसे जानवरों का भी घर है.

  • कान्हा राष्ट्रीय उद्यान, मध्य प्रदेश (Kanha National Park, Madhya Pradesh)
Kanha National Park | Wildlife Safari & Travel Guide to Kanha

इसे कान्हा टाइगर रिजर्व के नाम से भी जाना जाता है. कान्हा राष्ट्रीय उद्यान एशिया के सबसे बेस्ट उद्यानों में से एक माना जाता है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार यहां करीब 500 से बाघ रहते हैं. बाघों के अलावा इस पार्क में हाथी, स्लॉथ बियर और असंख्य पक्षियों के साथ-साथ, हिरण आदि भी रहते हैं. आप आज बाघ दिवस के अवसर पर यहां की सैर कर सकते हैं.

  • जिम कॉर्बेट टाइगर रिजर्व, उत्तराखंड (Jim Corbett Tiger Reserve, Uttarakhand)
Jim Corbett National Park: A Guide to Untamed Adventures

उत्तराखंड की वादियों में स्थित यह नेशनल पार्क अपनी प्राकृतिक सुदंरता के लिए जाना जाता है. यहां आप बाघों के अलावा कई जीवों को देख सकते हैं. प्रकृति के रंग में रंगे ये जीव जांतु आपका दिल मोह लेंगे. अगर आप उत्तरखंड से  हैं और अंतर्राष्ट्रीय बाघ दिवस पर घूमने का प्लान बना रहे हैं तो जिम कार्बेट आपके लिए बेस्ट रहेगा.

यह भी पढ़ें- सिर्फ वेट लॉस ही नहीं इन बीमारियों में भी फायदेमंद ग्रीन टी