menu-icon
India Daily
share--v1

भारत से विवाद के बीच कनाडा पर भड़के रूसी राष्ट्रपति पुतिन, इस बड़े नेता को कह दिया 'इडियट'

Russia on Canada: भारत और कनाडा के बीच रिश्तों में जारी कड़वाहट के बीच रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कनाडा को फटकार लगाई है. जानें पूरा मामला क्या है.

auth-image
Amit Mishra
भारत से विवाद के बीच कनाडा पर भड़के रूसी राष्ट्रपति पुतिन, इस बड़े नेता को कह दिया 'इडियट'

Russia on Canada: रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin ) ने पूर्व नाजी सैनिक का संसद में सम्मान करने को लेकर कनाडा की कड़ी आलोचना की है. रूसी राष्ट्रपति ने कनाडा (Canada) के पूर्व संसद अध्यक्ष को 'इडियट' तक कह दिया. पुतिन ने कनाडा को ये फटकार ऐसे वक्त पर लगाई है, जब खालिस्तानी आतंकी हरदीप निज्जर की हत्या को लेकर भारत (India) के साथ उसके रिश्ते तनावपूर्ण हैं. पुतिन ने भारत की तारीफ भी की है.

जानें पूरा मामला

दरअसल, पिछले महीने यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की कनाडा पहुंचे थे. यहां उन्होंने कनाडा की संसद को संबोधित किया था. इस दौरान द्वितीय विश्व युद्ध में हिटलर की ओर से लड़ने वाले नाजी सैनिक यारोस्लाव हुंका को बुलाया गया था. कनाडा के पूर्व स्पीकर एंथनी रोटा ने हुंका को असली हीरो बताया था. इसके बाद कनाडाई सांसदों ने खड़े होकर तालियां बजाकर नाजी सैनिक का स्वागत किया था. इस दौरान सदन में कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो और यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की मौजूद थे. हालांकि, संसद के पूर्व अध्यक्ष एंथनी रोटा को जब ये पता चला कि यारोस्लाव हुंका हिटलर की सेना में था तो उन्होंने अपने इस कदम के लिए माफी मांग ली.

भड़के पुतिन, कही ये बात

इस घटना पर गुस्सा जाहिर करते रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा कि अगर कनाडाई संसद के पूर्व अध्यक्ष कहते हैं कि द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान इस कनाडाई-यूक्रेनी या यूक्रेनी-कनाडाई नाजी ने रूस के खिलाफ लड़ाई लड़ी थी, तो वो ये समझें कि वो हिटलर की तरफ से लड़े थे. वल्दाई डिस्कशन क्लब की एक बैठक में एक सभा को संबोधित करते हुए पुतिन ने कहा, ''मैंने देखा कि कनाडा के संसद में इस नाजी सैनिक की सराहना की जा रही थी और सराहना करने वालों में यूक्रेन के राष्ट्रपति भी शामिल थे, जिनके अंदर यहूदी खून है.''

पुतिन ने की भारत की तारीफ

रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने भारत और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जमकर तारीफ भी की. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी राष्ट्रहित के लिए देश का नेतृत्व करते हैं. पुतिन ने कहा कि वे (पश्चिमी देश) हर उस व्यक्ति को दुश्मन के रूप में पेश करने की कोशिश कर रहे हैं, जो इन पश्चिमी अभिजात वर्ग का आंख बंद करके अनुसरण करने के लिए तैयार नहीं है...एक निश्चित समय पर, उन्होंने भारत के साथ भी ऐसा ही करने की कोशिश की. मगर भारत के साथ उनकी दाल नहीं गली, वो भारत को बरगला नहीं पाए. इसमें कोई शक नहीं कि अब भी वो इस तरह का प्रयास कर रहे हैं. पुतिन ने कहा कि हम सभी इसे अच्छी तरह से समझते हैं. हम एशिया की स्थिति को महसूस करते हैं और उसे देखते हैं.

यह भी पढ़ें: राहुल गांधी ने डॉगी का नाम रखा 'नूरी', भड़के AIMIM नेता, बोले- ‘ये मुस्लिम बेटियों का अपमान’

पढ़ें देश से जुड़ी अन्य बड़ी खबरें