menu-icon
India Daily
share--v1

Libya Floods: लीबिया में बाढ़ के चपेट में आकर जान गंवाने वाले लोगों की संख्या में संयुक्त राष्ट्र ने किया बदलाव, जानें क्या है कारण

Libya Floods: लीबिया में आई विनाशकारी बाढ़ के चपेट में आने से मरने वालों के आंकड़े में संयुक्त राष्ट्र की ओर से संशोधन करते हुए एक बड़ा बदलाव किया है.

auth-image
Purushottam Kumar
Libya Floods: लीबिया में बाढ़ के चपेट में आकर जान गंवाने वाले लोगों की संख्या में संयुक्त राष्ट्र ने किया बदलाव, जानें क्या है कारण

Libya Floods: लीबिया में आई विनाशकारी बाढ़ के चपेट में आने से मरने वालों के आंकड़े में संयुक्त राष्ट्र की ओर से संशोधन करते हुए एक बड़ा बदलाव किया है. संयुक्त राष्ट्र ने बताया कि लीबिया के डेर्ना शहर में विनाशकारी बाढ़ से 3,958 लोगों की मौत हो गई है. संयुक्त राष्ट्र के ऑफिस फॉर कॉर्डिनेशन ऑफ ह्यूमैनिटेरियन अफेयर्स विभाग की ओर से इसके पहले मृतकों का आंकड़ा 11,300 बताया गया था. संयुक्त राष्ट्र ने विश्व स्वास्थ्य संगठन के हवाले से नई जानकारी दी है.

गौरतलब है कि इससे पहले लीबियाई रेड क्रीसेंट के हवाले से संयुक्त राष्ट्र ने बाढ़ से 11,300 लोगों की मौत होने की जानकारी दी थी.  संयुक्त राष्ट्र की ओर से विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा दिए गए आंकड़ों की भी पुष्टि की जा रही है. दूसरी तरफ लीबियाई रेड क्रीसेंट का कहना है कि उनकी ओर से मृतकों का इतना बड़ा आंकड़ा जारी नहीं किया था. उन्होंने आगे कहा कि बाढ़ में जान गंवाने वाले लोगों की संख्या अभी और बढ़ सकती है.

ये भी पढ़ें: Shantiniketan In World Heritage List: यूनेस्को ने विश्व धरोहर की सूची में शांतिनिकेतन को किया शामिल, जानिए क्या है शांतिनिकेतन का इतिहास

लीबिया में राहत-बचाव कार्य जारी

लीबिया के डेर्ना में बाढ़ के बाद राहत और बचाव का कार्य जारी है. लीबिया में आई इस विनाशकारी बाढ़ में करीब-करीब पूरा शहर बह गया है. जानकारी के अनुसार दो बांधों के टूटने के चलते शहर में बाढ़ की ये हालात बनी है.

दुनिया भर से मदद की अपील

संयुक्त राष्ट्र की ओर से जारी एक बयान के अनुसार लीबिया को सात करोड़ यूएस डॉलर की आर्थिक मदद की जरूरत है. दुनिया के देशों से संयुक्त राष्ट्र ने लीबिया की मदद करने की अपील की है. पूर्वी लीबिया में रहने वाले करीब ढाई लाख लोगों के लिए डब्ल्यूएचओ की ओर से इमरजेंसी सहायता भेजी गई है. आपको बता दें, इटली, रूस और सऊदी अरब की ओर से भी लीबिया को मदद भेजी गई है.

ये भी पढ़ें: Anantnag Encounter: आतंकियों की अब खैर नहीं, जम्मू कश्मीर में होने वाला है कुछ बड़ा! मनोज सिन्हा बोले- जवानों की शहादत का बदला लेंगे