share--v1

तबाह हो चुका कीव अब चीन से भी लेगा पंगा, बस USA के Yes/No का है इंतजार 

Russia Ukraine War: यूक्रेन के एक वरिष्ठ सांसद ने कहा है कि वह अमेरिका के दुश्मनों के खिलाफ लड़ाई में अमूल्य सैन्य सहयोगी साबित होगा. पश्चिम में अमेरिका के बाद उसके पास सबसे बड़ी सेना है.

auth-image
India Daily Live

Russia Ukraine War: कीव चीन से भी जंग में दो-दो हाथ करने को तैयार है. यूक्रेन के एक वरिष्ठ सांसद ने कहा है कि कीव किसी भी दुश्मन के खिलाफ युद्ध में अमेरिका की सहायता करने के लिए हमेशा तैयार है, चाहे वह ईरान, उत्तर कोरिया या चीन हो. सांसद ने दावा किया कि उनका देश इन हालातों में वॉशिंगटन का मूल्यवान सैन्य सहयोगी साबित होगा. शुक्रवार को सीएनएन को दिए गए इंटरव्यू में, एलेक्सी गोंचारेंको ने कांग्रेस में गतिरोध के बीच यूक्रेन को अधिक सैन्य सहायता भेजने के लिए अमेरिका के आह्वान का भी जिक्र किया. 

अब वादों  को पूरा करने का समय

समाचार एजेंसी सीएनएन को दिए गए इंटरव्यू में यूक्रेनी सांसद एलेक्सी गोनचेरेनको ने कहा कि अमेरिका रूस के खिलाफ जंग में सहायता के लिए कीव की मदद करे. अमेरिकी कांग्रेस में कीव की सहायता के लिए लंबित प्रस्ताव पर जल्द सहमति जरूरी है ताकि युद्ध के मैदान में विरोधी ताकतों को हराया जा सके. अमेरिका की ओर से इस बात की पुष्टि की गई है कि वह यूक्रेन का सबसे बड़ा सामरिक सहयोगी है. अब जरूरत है कि हम उस वादे को पूरा करने पर काम करें. 

अमेरिका की नहीं बदलेंगी प्राथमिकताएं 

यूक्रेनी सांसद ने कहा है कि अमेरिकी नेताओं से कहा कि वे अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव पर ध्यान न दें. अमेरिकी सत्ता में चाहें कोई भी आए उसका प्रभाव यूक्रेनी हितों पर नहीं पड़ेगा. ताजा सामरिक हालात जिस तरह से बदल रहे हैं उससे एक बात तो तय है कि अमेरिका के विद्रोही एक साथ आ रहे हैं और उसे कमजोर करने का प्रयास कर रहे हैं. ऐसे में अमेरिको को तब ऐसे सहयोगियों की आवश्यकता होगी जो उसके कंधे से कंधा मिलाकर सहयोग कर सके. 

अमेरिकी दुश्मनों के खिलाफ है कीव 

इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि कीव अमेरिका के लिए सबसे बड़ी सामरिक बढ़त है और कई मोर्चों पर असहज होने की स्थिति में वह उनके लिए उपयोगी साबित होगा. उन्होंने मध्य पूर्व में तेहरान और एशिया में चीन और प्योंगयोंग के साथ संबंधों को लेकर भी अमेरिका को सहयोग करने की बात कही. उन्होंने तर्क दिया है कि पश्चिमी दुनिया में यूक्रेन अमेरिका के बाद सबसे बड़ी सेना है जो उसे वॉशिंगटन का मुख्य सहयोगी बनाती है. 

दुश्मन को हराने के लिए सहयोग जरूरी 

इंटरव्यू में यूक्रेनी सांसद ने कहा कि आज हमें अपने दुश्मन को हराने के लिए सहयोग की आवश्यकता है. सैन्य सहायता में देरी के कारण हमने अपने शहर अवदिविका को गंवा दिया. रूसी सैन्य मंत्रालय ने कहा कि यूक्रेनी सेना द्वारा आम नागरिक इलाकों को निशाना बनाया गया है. इस दौरान काफी ज्यादा जान माल का नुकसान हुआ है. 

 

Also Read