menu-icon
India Daily
share--v1

यूक्रेन ने तबाह किया रूस का S-400 मिसाइल सिस्टम, जेलेंस्‍की के दावे से हिले पुतिन

रूस-यूक्रेन युद्ध में नया मोड़ आया है. यूक्रेन ने कहा कि उसकी सेना ने काला सागर में सक्रिय दो रूसी गश्ती जहाजों पर हमला किया और उसे बर्बाद कर दिया है.

auth-image
Gyanendra Sharma
यूक्रेन ने तबाह किया रूस का S-400 मिसाइल सिस्टम, जेलेंस्‍की के दावे से हिले पुतिन

नई दिल्ली: रूस-यूक्रेन युद्ध में नया मोड़ आया है. यूक्रेन ने कहा कि उसकी सेना ने काला सागर में सक्रिय दो रूसी गश्ती जहाजों पर हमला किया और रूसी कब्जे वाले क्रीमिया में सतह से हवा में मार करने वाली अत्याधुनिक "ट्रायम्फ" मिसाइल रक्षा प्रणाली को नष्ट कर दिया.

गुरुवार को रिपोर्ट किए गए हमलों के एक दिन बाद कीव ने कहा कि उसने एक मिसाइल हमला किया था जिसमें एक रूसी पनडुब्बी और एक नौसैनिक लैंडिंग जहाज बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया. यूक्रेन ने कहा कि उसने ड्रोन और मिसाइलों के सही तालमेल से गुरुवार सुबह को रूसी सिस्‍टम को नष्‍ट कर दिया.

पुतिन को लिए बड़ा झटका

यूक्रेन ने बताया कि ऐसा पहली बार है जब रूस के एयर डिफेंस सिस्‍टम को बर्बाद करने के लिए ड्रोन का इस्‍तेमाल किया गया है. यूक्रेन का यह दावा अगर सही है कि तो यह रूसी राष्‍ट्रपति पुतिन के लिए दोहरा झटका है. रूसी रक्षा मंत्रालय ने सुबह के एक बयान में सर्गेई कोटोव जहाज पर हमले की पुष्टि की, लेकिन कहा कि पांच समुद्री ड्रोनों से किए गए हमले को विफल कर दिया गया. इसमें नुकसान का कोई जिक्र नहीं किया गया.

यूक्रेन की सेना ने किया दावा

यूक्रेन की सेना ने यह भी कहा कि उसने क्रीमिया के पश्चिम में येवपटोरिया शहर के पास गुरुवार तड़के एक लंबी दूरी के हमले में रूसी वायु रक्षा प्रणाली को निशाना बनाया था. यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोडिमिर ज़ेलेंस्की ने गुरुवार को राष्ट्र के नाम अपने रात्रि संदेश में क्रीमिया हमले का विशेष उल्लेख किया.

ज़ेलेंस्की ने सेना का बढ़ाया मनोबल

ज़ेलेंस्की ने कहा-मैं आज की जीत के लिए आपको धन्यवाद देता हूं - हमारे क्रीमिया की भूमि पर कब्जा करने वालों की वायु रक्षा प्रणाली को नष्ट करने के लिए. यह एक बहुत ही महत्वपूर्ण उपलब्धि है. इसके लिए यूक्रेन की सुरक्षा सेवा और हमारी नौसेना के पूरे स्टाफ की विशेष रूप से सराहना की जानी चाहिए."

इस हमले की पूरी दुनिया में चर्चा है. अमेरिकी न्‍यूज वेबसाइट ड्राइव की रिपोर्ट के मुताबिक एस 400 के नष्‍ट हो जाने की वजह से अब क्रीमिया पर ड्रोन और म‍िसाइलों से हमला करना यूक्रेन के लिए बहुत आसान हो गया है. इस हमले से एक दिन पहले ही यूक्रेन ने रूस को बड़ा नुकसान पहुंचाया था.