share--v1

India Canada Row: निज्जर किलिंग पर बोले ट्रूडो- हम भारत से लड़ना नहीं चाहते लेकिन....

India Canada Row: कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने फिर से खालिस्तानी आतंकी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या का मामला उठाया है. रविवार को उन्होंने कहा कि भारत को इस केस की तह तक जाने के लिए हमने साथ मिलकर काम करने को कहा है.

auth-image
Shubhank Agnihotri

India Canada Row: कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने फिर से खालिस्तानी आतंकी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या का मामला उठाया है. रविवार को उन्होंने कहा कि भारत को इस केस की तह तक जाने के लिए हमने साथ मिलकर काम करने को कहा है. कनाडा लड़ाई नहीं चाहता,बल्कि वह कानून के शासन के लिए खड़ा हो रहा है. ट्रूडो ने कहा कि भारत सरकार के एजेंट कनाडा की धरती पर कनाडाई नागरिक की हत्या में शामिल थे. इसके बाद हमने भारत से संपर्क किया और साथ काम करने का आग्रह किया.

तो दुनिया और खतरनाक होगी...


कनाडाई प्रधानमंत्री ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय कानून और लोकतंत्र की संप्रभुता को लेकर हमने अपने सहयोगियों से भी संपर्क किया है. हम इस मामले को बेहद गंभीरता से ले रहे हैं. हम अपने सहयोगियों के साथ काम करना जारी रखेंगे. कानून प्रवर्तन एजेंसियां और जांच एजेंसियां अपना काम कर रही हैं. ट्रूडो ने कहा कि कनाडा हमेशा से ऐसा देश रहा है जो कानून के शासन के साथ खड़ा होता है. उन्होंने कहा कि यदि बड़े देश भी ऐसा करते हैं तो यह स्थिति पूरी दुनिया के लिए और खतरनाक हो जाएगी.

आरोप गंभीर, घटनाएं निराश करने वाली

भारत-कनाडा विवाद को लेकर हमारी स्थिति एकदम साफ है. हम इस मसले पर भारत के साथ रचनात्मक ढंग से सहयोग करना चाहते हैं. हमने ये आरोप गंभीरता से लगाए हैं और हम इसे लेकर चिंतित हैं. इसके तह तक जाने और इसके समाधान के लिए हमने भारत सरकार और दुनिया के अन्य साझेदारों से संपर्क किया है. ट्रूडो ने कहा कि भारत ने 40 से ज्यादा कनाडाई राजनयिकों की राजनयिक छूट को मनमाने ढंग से रद्द कर दिया. इन घटनाओं ने हमें बेहद निराश किया है.

 

भारत ने किया वियना कन्वेंशन का उल्लंघन

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने कहा कि भारत सरकार के एजेंट कनाडा के नागरिक की हत्या में शामिल हो सकते हैं. इसे साबित करने के लिए हमारे पास अच्छे भले कारण हैं. भारत ने वियना कन्वेंशन के तहत हमारे अधिकारों का उल्लंघन किया है और हमारे राजनियकों को बाहर निकाल दिया. यह पूरी दुनिया के लिए चिंता की बात है. उन्होंने कहा कि अगर कोई देश ऐसा फैसला लेता है कि उसके राजनियक दूसरे देशों में सुरक्षित नहीं है  तो इससे राजनियक संबंध बहुत खतरनाक हो जाते हैं.

 

 

यह भी पढ़ेंः Space News: जापान का अंतरिक्ष में एक और कारनामा करने का प्लान, अब लकड़ी से बना सैटेलाइट भेजेगा

First Published : 13 November 2023, 06:43 AM IST