share--v1

'पुतिन हैं मेरे पति के हत्यारे', नवलनी की पत्नी ने वीडियो जारी कर लगाए गंभीर आरोप

Alexei Navalny Death Update: रूस के मृतक विपक्षी नेता एलेक्सी नवलनी की पत्नी ने राष्ट्रपति पुतिन के खिलाफ मोर्चा खोला है. उनकी पत्नी यूलिया ने प्रेसिडेंट पुतिन को उनके पति की मौत का जिम्मेदार ठहराया है.

auth-image
India Daily Live

Alexei Navalny Death Update: रूस के विपक्षी नेता एलेक्सी नवलनी की मौत के बाद पूरा पश्चिमी कुनबा क्रेमलिन पर निशाने साध रहा है. एलेक्सी समर्थक पूरे देश में उनकी याद में रैलियां कर रहे हैं. इस बीच एलेक्सी की पत्नी यूलिया नवलनया ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के ऊपर गंभीर आरोप लगाए हैं. एक वीडियो जारी कर उन्होंने कहा कि पुतिन ने मेरे पति की हत्या की है. वे मेरे पति की मौत के जिम्मेदार हैं. 

पत्नी ने जारी किया वीडियो 

रिपोर्ट के अनुसार, वीडियो जारी कर यूलिया नलवनया ने कहा कि अब वे अपने पति के अधूरे काम को पूरा करेंगी. उन्होंने इस काम में मदद के लिए उनके एलेक्सी के समर्थकों से साथ देने की अपील की है. वीडियों में रोते हुए वे पुतिन को अपने पति का हत्यारा करार दे रही हैं. वे कहती हैं कि वे अपने देश की निरंकुश ताकतों से आजादी के लिए अपने पति के संघर्ष को आगे बढ़ाएंगी. समर्थकों से अपील करते हुए उन्होंने कहा कि पति के अधूरे काम को पूरा करने के लिए हमें आपके सहयोग और समर्थन की जरूरत होगी. इसमें हमारा साथ देना. 

क्रेमलिन ने कहा- जांच जारी 

रूसी राष्ट्रपति मुख्यालय क्रेमलिन ने बयान जारी कर कहा कि रूसी नेता की मौत की जांच चल रही है. विपक्षी नेता की मौत किस कारण हुई यह जांच सामने आने के बाद ही पता चल सकेगा. क्रेमलिन ने उन बयानों की भी निंदा की जिसमें उनकी मौत का जिम्मेदार क्रेमलिन को ठहराया गया. मौत की जांच के सिलसिले पर पूछे गए सवाल पर क्रेमलिन के प्रवक्ता दमित्री पेस्कोव ने पत्रकारों को बताया कि जांच से जुड़ी सभी प्रक्रियाओं को पूरा किया जा रहा है. जांच अपने अंतिम चरण में है. फिलहाल अब तक जांच रिपोर्ट सामने नहीं आई है. ऐसे में विपक्षी नेता की मौत किस वजह से हुई यह कहना स्पष्ट नहीं होगा. 


जर्मनी ने किया रूसी राजदूत को तलब 

पुतिन के कट्टर आलोचक नवलनी की मौत के बाद पश्चिमी देशों ने एक सुर में मॉस्को की आलोचना की है. अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा कि क्रेमलिन इस हत्या के पीछे प्रत्यक्ष तौर पर शामिल है. 
उन्होंने कहा कि दुनिया ने पुतिन की क्रूरता का एक और सबूत देख लिया. ब्रिटेन, जर्मनी, इटली, कनाडा जैसे देशों ने भी इस मामले पर रूस कि निंदा की. जर्मनी ने इस मामले को लेकर सोमवार को रूसी राजदूत को भी तलब किया है.