menu-icon
India Daily
share--v1

Odysseus Spacecraft Land On Moon: 50 साल बाद फिर चांद पर पहुचा अमेरिका, दक्षिणी ध्रुव के पास उतरा ओडीसियस

lander Odysseus: अमेरिका का प्राइवेट स्पेसक्राफ्ट चांद की सतह पर लैंडर कर चुका है. NASA के मुताबिक, भारतीय समय के अनुसार 4 बजकर 53 मिनट पर इसकी लैंडिंग हुई.

auth-image
India Daily Live
lander Odysseus

lander Odysseus: चांद पर अमेरिका ने एक और मीशन पूरा किया है. अमेरिका का प्राइवेट स्पेसक्राफ्ट लैंडर ओडिसियस चांद की सतह सॉफ्ट लैंडिंग हो गई है. NASA के मुताबिक, भारतीय समय के अनुसार 4 बजकर 53 मिनट पर इसकी लैंडिंग हुई. यह पहला प्राइवेट स्पेसक्राफ्ट हो जा मून पर लैंड हुआ है. लैंडिंग से पहले ओडिसियस के नेविगेशन सिस्टम में कुछ खराबी आई थी. इसके बावजूद लैंडिंग कराई गई. 

ओडिसियस चांद के  साउथ पोल पर उतरा है. लैंड करने से पहले स्पेसक्राफ्ट ने मून का एक अतिरिक्त चक्कर लगाया क्योंकि उस समय स्पेसकॉफ्ट की स्पीड तेज थी. भारत के चांद पर  मिशन चंद्रयान लॉन्च किया था. चंद्रयान-3 ने 23 अगस्त 2023 को चांद के साउथ पोल पर लैंडिंग कर इतिहास रच था. 

साउथ पोल पर लैंड करने वाला दूसरा देश

अमेरिका ने सबसे पहले 1972 में चांद पर अपना स्पेसक्राफ्ट भेजा था. उस मिशन का नाम अपोलो था. भारत के बाद अमेरिका मून के साउथ पोल पर लैंड करने वाला दूसरा देश बन गया है. भारत ने पिछले साल चंद्रयान-3 की सफल लैंडिंग साउथ पोल पर कराई थी. मून साउथ पोल पर खनिज होने की काफी संभावना है. 

भारत का चंद्रयान रच चुका है इतिहास

भारत ने पिछले साल 23 अगस्त चंद्रयान-3 को साउथ पोल पर उतारकर इतिहास रच दिया था. चांद के उस हिस्से पर उतरने वाला भारत पहला देश बना था. ISRO ने चंद्रयान को श्रीहरिकोटा  सेंटर से 14 जुलाई को लॉन्च किया था. जो 41वें दिन चांद के साउथ पोल पर लैंड हुआ.