menu-icon
India Daily
share--v1

'निज्जर की हत्या की होनी चाहिए जांच', अमेरिका बोला- भारत को कोई विशेष छूट नहीं दी जाएगी

भारत-कनाडा तनाव के बीच अमेरिका ने गुरुवार को कहा कि वह भारत और कनाडा के साथ लगातार संपर्क में है.

auth-image
Gyanendra Sharma
'निज्जर की हत्या की होनी चाहिए जांच', अमेरिका बोला- भारत को कोई विशेष छूट नहीं दी जाएगी

नई दिल्ली: खालिस्तानी आतंकी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या के बाद भारत और कनाडा के बीच रिश्ते बिगड़ते जा रहे हैं. कनाडा ने निज्जर की हत्या का आरोप भारत पर लगाया है और जांच की मांग की है.  तनाव के बीच अमेरिका ने गुरुवार को कहा कि वह भारत और कनाडा के साथ लगातार संपर्क में है.

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवन ने संवाददाताओं से कहा, मैं उन निजी राजनयिक बातचीत में शामिल नहीं होने जा रहा हूं जो इस विषय पर पहले ही हो चुकी हैं या होने वाली हैं. हम इस मुद्दे पर उच्च स्तर पर भारतीयों के संपर्क में हैं. सुलिवन ने आगे कहा , कोई भी देश हो इस तरह के कामों के लिए किसी को भी स्पेशल छूट नहीं मिलेगी.

'कनाडा का पूरा समर्थन करते हैं'

अमेरिका के NSA सुलिवन ने कहा कि जैसे ही हमने कनाडाई प्रधानमंत्री से आरोपों के बारे में सार्वजनिक रूप से सुना, हम स्वयं सार्वजनिक रूप से सामने आए और उनके बारे में अपनी गहरी चिंता व्यक्त की, जो कुछ हुआ उसकी तह तक जाने के लिए हम कनाडा का पूरा समर्थन करते हैं. सुलिवन ने कहा, यह हमारे लिए चिंता का विषय है. यह ऐसी चीज है जिसे हम गंभीरता से लेते हैं.

सुलिवन ने कहा, अब, भारत रूस नहीं है, और चीन की अपनी चुनौतियां हैं जिनसे हम अपने तरीके से निपटते हैं. इसलिए निःसंदेह, हम एक-एक करके देशों के साथ कैसे व्यवहार करते हैं, इसमें मतभेद होंगे.

ट्रूडो के बयान से बढ़ा विवाद

बता दें कि  कनाडाई प्रधान मंत्री ट्रूडो ने सोमवार को प्रतिबंधित खालिस्तान टाइगर फोर्स (केटीएफ) के प्रमुख निज्जर की हत्या में "भारत सरकार के एजेंटों" की संलिप्तता का आरोप लगाया. भारत ने दावों को बेतुका बताया. इस मामले में ओटावा द्वारा एक भारतीय अधिकारी को निष्कासित करने के बदले में भारत ने भी एक वरिष्ठ कनाडाई राजनयिक को निष्कासित कर दिया.